Home > India News > ओलम्पिक गोल्फ में भारत की 112 साल बाद वापसी

ओलम्पिक गोल्फ में भारत की 112 साल बाद वापसी

aditi-ashok_Rio de Janeiro_Newsनई दिल्ली- भारत के शीर्ष गोल्फर अनिर्बान लाहिड़ी और एसएसपी चौरसिया रियो दि जिनेरियो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे जब खेलों के इस महासमर में गोल्फ की 112 साल बाद वापसी होगी। इन दोनों के साथ युवा अदिति अशोक महिला वर्ग में भारत की नुमाइंदगी करेंगी। ओलंपिक क्वालीफिकेशन की कटआफ तारीख 11 जुलाई थी जिसके बाद लाहिड़ी और चौरसिया ने अंतरराष्ट्रीय गोल्फ महासंघ की रैंकिंग के आधार पर रियो का टिकट कटाया।

एशिया के नंबर एक गोल्फर लाहिड़ी (विश्व रैंकिंग 62) और मौजूदा इंडियन ओपन चैम्पियन एसएसपी चौरसिया (विश्व रैंकिंग 207) आईजीएफ की रैंकिंग में क्रमश: 20वें और 45वें स्थान पर रहे। इन दोनों ने रियो ओलंपिक खेलने वाले 60 गोल्फरों में जगह बनाई। लाहिड़ी ने पीजीटीआई से कहा, ओलंपिक अनिर्बान लाहिड़ी सुनने में अच्छा लगता है लेकिन ओलंपिक पदक विजेता अनिर्बान लाहिड़ी और अच्छा लगेगा । लाहिड़ी ने 2015 में यूरोपीय टूर पर दो जीत दर्ज की और पीजीए चैम्पियनशिप में संयुक्त पांचवें स्थान पर रहे। पिछले साल उन्होंने प्रेसिडेंट्स कप में अंतरराष्ट्रीय टीम में जगह बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बनकर इतिहास रचा था । लाहिड़ी इससे पहले 2006 दोहा एशियाई खेलों में भाग ले चुके हैं जिसमें वह रजत पदक विजेता भारतीय टीम का हिस्सा थे।

चार अंतरराष्ट्रीय खिताब विजेता एसएसपी चौरसिया ने इस साल इंडियन ओपन जीता जिससे वह ओलंपिक के लिये दावेदारी में शामिल हुए। ओलंपिक पुरूष स्पर्धा के लिये आईजीएफ रैंकिंग के अनुसार भारत उन 24 देशों में से है जिसका एक से अधिक गोल्फर ओलंपिक खेलेगा। एशिया से नौ देशों के 17 गोल्फर इनमें भाग लेंगे। पीजीटीआई निदेशक उत्तम सिंह मुंडी ने कहा, हमें खुशी है कि भारत के दो गोल्फर इसमें भाग ले रहे हैं। हमें यकीन है कि ये दोनों ओलंपिक में भारत का नाम रोशन करेंगे । पुरूषों की गोल्फ स्पर्धा 11 से 14 अगस्त तक ओलंपिक गोल्फ कोर्स पर होगी । [एजेंसी]

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com