missile interceptorबालासोर: भारत ने परमाणु संपन्न मारक क्षमता वाले स्वदेशी बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-1 का सफल परीक्षण किया है। रक्षा अधिकारियों ने बताया कि परीक्षण ओडिशा के तटीय क्षेत्र से किया गया। इस मिसाइल की मारक क्षमता 700 किलोमीटर तक बताई जा रही है। सतह से सतह पर मार करने वाली यह एक चरणीय मिसाइल ठोस प्रणोदकों (propellent) से चलती है।

एक रक्षा अधिकारी ने बताया कि ओडिशा के अब्दुल कलाम द्वीपसमूह से जमीन से जमीन पर वार करने वाले एकल मिशन लक्ष्यभेदी मिसाइल को परीक्षण रेंज में लॉन्च पैड 4 से सुबह 9.15 बजे छोड़ा गया। भारतीय सेना की रणनीतिक कमान द्वारा किया गया ये परीक्षण सफल रहा।

अधिकारी ने बताया कि इस स्वदेशी मिसाइल की मारक क्षमता 700 किलोमीटर है, जो महज 9 मिनट 36 सेकेंड में अपने लक्ष्य को भेद सकता है। उन्होंने बताया कि यह प्रक्षेपण एसएफसी द्वारा संचालित गतिविधियों को आगे बढ़ाते हुए नियमित प्रशिक्षण के बाद किया गया।

अग्नि-1 मिसाइल रडार, टेलीमेटरी निरीक्षण स्टेशनों और इलेक्ट्रो-ऑप्टिक उपकरणों और युद्धपोतों से जुड़ा होता है जो उसके लक्ष्य भेदने तक उस पर नजर बनाए रखता है। इस स्वदेशी मिसाइल में नेविगेशन प्रणाली का भी इस्तेमाल किया गया है, जिसकी वजह से यह अपने लक्ष्य को सटीकता से भेद सकता है। – एजेंसी DEMO-PIC