प्रेमिका को दूसरे की बाइक पर घूमते देखा तो कर दी हत्या, 15 साल से थे अवैध प्रेम संबंध

खंडवा : मध्य प्रदेश के खंडवा में एक पूर्व प्रेमी ने प्रेमिका को किसी और के साथ दिखने पर प्रेमिका की हत्या कर दी आरोपी ने बाइक से प्रेमिका का पीछा किया। घने जंगल में प्रेमिका और उसका साथी जैसे ही नाश्ता करने रुके तो पूर्व प्रेमी और उसके साथी ने युवक के सिर पर लट्‌ठ से वार किए। युवक जान बचाकर भाग निकला, लेकिन महिला की पत्थर से सिर कुचलकर हत्या कर दी।

यह वारदात बोरगांव पुलिस चौकी के सुक्ता डेम से कुछ दूरी पर नत्थू नाला फालिया के जंगल में शनिवार को हुई। बताया जा रहा है की 15 साल पुराने अवैध प्रेम संबंध के बीच महिला को नया प्रेमी मिलने पर उसने पुराने प्रेमी को छोड़ दिया। इससे नाराज पूर्व प्रेमी ने यह कदम उठाया ।

महिला के नए प्रेमी सोनू पिता बुधिया गोलकर ने डायल 100 को सूचना दी कि सुक्ता के जंगल में मुझे व मेरी पत्नी पर दो लोगों ने जानलेवा हमला किया है। उन्होंने पत्नी व बाइक भी छुड़ा ली है। जानकारी मिलते ही एसआई राधेश्याम मालवीय, एएसआई प्रताप वास्कले पुलिस टीम के साथ घटनास्थल के लिए रवाना हो गए। इस दौरान सोनू गोलकर रास्ते में मिला। पुलिस टीम सोनू को लेकर मौके पर पहुंची। जहां पंधाना थाना क्षेत्र निवासी 40 वर्षीय महिला की सिर कुचली हुई लाश पड़ी थी। पुलिस ने शव बरामद कर पीएम के लिए भिजवाया।

इधर शिकायतकर्ता सोनू गोलकर निवासी खिराला ने डायल 100 को घटना के समय मृतक महिला को अपनी पत्नी बताया था, लेकिन बाद में उसने कहा कि हम दोनों की मुलाकात एक महीने पहले हुई। महिला और हम दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था। घटना के बाद पुलिस को संदेह हुआ कि कहीं शिकायतकर्ता कहानी तो नहीं बना रहा है, लेकिन कुछ देर बाद सीसीटीवी फुटेज देखने पर आरोपियों की शिनाख्त कैलाश उर्फ रावण पिता कमलचंद व संदीप चनाल निवासी खैगांवड़ा के रूप में हुई।

मुख्य आरोपी कैलाश रावण है, जिसके महिला के साथ 15 साल से अवैध संबंध थे। करीब एक साल से दोनों के बीच अनबन होने से विवाद चल रहा था। जबकि दूसरा आरोपी संदीप जो कि आरोपी रावण का दोस्त है। वारदात के समय उसने महिला को पकड़ रखा था। जानकारी मिलने के बाद डीएसपी केपी डेविड व पंधाना थाना टीआई जेयू सिद्दीकी भी मौके पर पहुंचे।

लाश को शाम पांच बजे महिला आरक्षक शबनम व आरक्षक धमेंद्र वर्मा परिजन के साथ लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर इस बात पर पुलिसकर्मियों पर नाराज हुए कि उनके साथ कोई अधिकारी नहीं था।फरियादी सोनू की शिकायत पर आरोपी कैलाश उर्फ रावण व संदीप के खिलाफ धारा 302, 34 के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

सोनू ने बताया कि महिला से एक माह पहले उसकी मुलाकात हुई थी। शनिवार को वह बोरगांव महिला को मैंने ही डॉक्टर को दिखाया। इसके बाद उससे कहा कि अब आप बस से डुल्हार चली जाओ। महिला ने मना कर दिया। फिर हमने होटल से नाश्ता लिया और पिकनिक मनाने के लिए जंगल की ओर चले गए। हम दोनों नाश्ता निकालकर बैठे ही थे कि अचानक कैलाश और उसका साथी संदीप आए और मारपीट शुरू कर दी। महिला की शादी 15 साल पहले भुसावल में हुई। पति की मौत के बाद से वह अपने पिता के घर रह रही थी। महिला के 18 व 17 साल के दो बेटे हैं। आरोपी कैलाश रावण के साथ करीब 15 साल से संबंध थे।