Home > Lifestyle > Health > महिलाएं नजरअंदाज करती हैं यह बीमारी, सबूत हैं ये इशारे

महिलाएं नजरअंदाज करती हैं यह बीमारी, सबूत हैं ये इशारे

स्वस्थ रहने के लिए हमारे शरीर में हार्मोंस का बैलेंस होना बहुत जरूरी है। आज के समय में महिलाओं में ये परेशानी एक आम परेशानी बन गई है और इसके सबसे बड़े कारण हैं बदलता लाइफस्टाइल और गलत खानपान की आदत।
ज्यादातर महिलाओं में यह परेशानी 40 से 50 की उम्र में देखने को मिलती है। अक्सर महिलाएं इसके लक्षणों को हल्के में लेती हैं, लेकिन सही समय पर इसकी पहचान कर इसका इलाज कराना बेहद जरूरी है।

आइए जानते हैं महिलाओं में हार्मोन असंतुलन के संकेत.गुस्सा आना या चिड़चिड़ापनहार्मोन असंतुलित होने पर सबसे पहला बदलाव आपके मूड पर दिखेगा। इसका सीधा असर आपके मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है।

आपका स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है। आप बात-बात पर बेवजह गुस्सा करने लगती हैं।नींद आना और थकावटअगर आपको हर समय नींद आएं। बिना कोई काम करें भी आप थका-थका महसूस करें तो गलती से भी इसे इग्नोर न करें। इसके पीछे हार्मोन्स का असंतुलन होना हो सकता है। दरअसल, जब हार्मोन्स असंतुलित होते हैं तो हमारे शरीर में प्रोजेस्टेरॉन का मात्रा बढ़ जाती है, जिससे आपको हर समय थकावट महसूस होती है।

बहुत ज्यादा पसीना आनाअगर आपको सामान्य से ज्यादा पसीना आने लगे तो इसके पीछे का कारण भी हार्मोंस में गड़बड़ी हो सकता है, क्योंकि हार्मोंस असंतुलित होने पर शरीर के टेम्परेचर में भी बदलाव आता है। ऐसे में तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।ज्यादा भूख लगनाअगर आपको अचानक ज्यादा भूख लगने लग जाएं तो यह भी हार्मोंस असंतुलित होने का इशारा हो सकता है। दरअसल जब हमारे शरीर में एस्ट्रोजेन हार्मोन के स्तर में कमी आती है तो हमें जरूरत से भी ज्यादा भूख लगने लगती है। इतना ही नहीं आप ज्यादा खाने लगते हैं जिस कारण आपका वजन बढ़ने लगता है।डिप्रेशनहार्मोन गड़बड़ी की वजह से कई महिलाओं को तनाव की समस्या भी हो जाती है।

अगर वक्त रहते आप इस पर ध्यान नहीं देंगी तो यह तनाव डिप्रेशन या किसी मानसिक परेशानी का रूप ले सकता है। ऐसे में समय रहते इस समस्या का इलाज जरूर करा लें।शारीरिक संबंध बनाने में अरूचिहार्मोन में गड़बड़ होने का बुरा असर आपकी शादीशुदा जिंदगी पर भी पड़ सकता है। दरअसल हार्मोन में गड़बड़ होने के कारण हमारे शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर कम हो जाता है, जिसके चलते शारीरिक संबंध बनाने में रूचि नहीं रहती।याददाश्त कमजोर होनाहार्मोन के असंतुलित होने पर कई महिलाओं की याददाश्त पर असर पड़ता है। वो छोटी-छोटी बातें भूलने लगती है।

अगर आपके साथ भी ऐसा होता है कि आप छोटी छोटी बातें भूल जाती हैं तो यह हार्मोनल असंतुलन का इशारा हो सकता है।पिंपल्सअगर आपके चेहरे पर बार-बार मुंहासे निकल आए और ठीक होने का नाम ही नहीं ले रहे तो यह भी हार्मोंस अंसतुलन का ही संकेत है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .