Home > India News > MP : जाति देख कर प्रेम करें युवतियां, वरना मिलेगा समाज निकाला, महापंचायत का फरमान

MP : जाति देख कर प्रेम करें युवतियां, वरना मिलेगा समाज निकाला, महापंचायत का फरमान

पुरानी कहावत है कि प्रेम अंधा होता है। वो न जात-पात देखता है और न उम्र का बंधन। लेकिन मध्य प्रदेश में प्रेम पर पहरा बिठाने की कोशिशें की जा रही हैं।

श्योपुर-सहरिया समाज की युवतियों को अब युवक की जाति देखकर ही प्रेम करने की इजाजत होगी।

यदि युवती गलती से भी किसी दूसरी जाति के युवक से प्रेम कर बैठी तो उसे और उसके परिवार को भारी-भरकम जुर्माना भरना पड़ेगा। इतना ही नहीं उस परिवार को समाज से बेदखल भी कर दिया जाएगा।

दरअसल सहरिया समाज की महापंचायत ने यह अजीबोगरीब फरमान जारी किया है। दूसरे समाज के युवक से शादी करने वाली युवती के परिवार पर भारी-भरकम जुर्माना भी लगाया है।

मामला जिला मुख्यालय से सटे सलापुरा गांव का है, जहां सहरिया समाज की 84 गांवों की महापंचायत ने दूसरे समाज के युवक से प्रेम विवाह करने पर संबंधित परिवार पर 1.51 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

साथ ही जुर्माने की राशि को 2 महीने के अंदर महापंचायत के पास जमा नहीं करने पर उन्हें समाज से बेदखल किए जाने की चेतावनी भी दी गई है।

रविवार शाम हुई इस महापंचायत में समाज के पंच-प्रधानों ने यह फरमान जारी किया है। सहरिया समाज की कोई भी युवती दूसरे समाज के युवक से शादी करती है तो उस पर इतना ही जुर्माना लगाया जाएगा, नहीं तो समाज से बेदखल किया जाएगा।

समाज के मुखिया ने इस फरमान को समाज सुधार का काम बताकर समाज के बिगड़े हुए हालात के लिए उठाए जाने वाला कदम बताया है। इस फरमान को सहरिया समाज के 84 गांवों में लागू करने का निर्णय लिया गया है।

बता दें कि सहरिया समाज के ज्यादातर लोग मेहनत-मजदूरी कर अपने परिवार का भरन-पोषण करते हैं। उनके पास इतने पैसे भी नहीं होते कि वो ढंग के कपड़े खरीदकर उसे पहन सकें।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com