भोपाल: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अब किसानों के पूरे कर्ज की माफी की मांग की है। गुरुवार को ट्वीट कर उन्होंने कहा कि 31 मार्च 2018 तक का टाइम बैरियर लगाकर, छन्नी लगाकर आधी-अधूरी कर्ज माफी की घोषणा मेरे प्रदेश के किसान भाइयों-बहनों के साथ घोर अन्याय है। कांग्रेस को ऐसे छलावे से दूर रहना चाहिए।

शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ये ठीक से जान ले कि मैं सोया नहीं हूं, मैं जाग रहा हूं और मेरी पैनी नजरें उन पर ही हैं। शिवराज ने इससे पहले बुधवार को भी भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा था कि कर्ज माफी का मतलब है कि जिसने पैसा समय पर दे दिया, उसका भी कर्ज माफ किया जाए। इसके लिए पूरे प्रदेश में लड़ाई लड़ूंगा।

शिवराज जब से मुख्यमंत्री पद से हटे हैं, रोज कुछ न कुछ ऐसा कह रहे हैं कि वह सुर्खियां बटोर रहे हैं। एक दिन पहले उन्होंने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि चिंता मत करना, टाइगर अभी जिंदा है। अब गुरुवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हर एक लंबी दौड़ या ऊंची छलांग से पहले दो कदम पीछे हटना पड़ता है। शिवराज के इस ट्वीट के भी मायने निकाले जा रहे हैं।