Home > Crime > मुख्यमंत्री फडणवीस से इच्छा मृत्यु की गुहार

मुख्यमंत्री फडणवीस से इच्छा मृत्यु की गुहार

Mumbai News
मुंबई  [ TNN ] खार पश्चिम पांचवे रास्ते खार पुलिस ट्रैफिक चौकी  के सामने महेश अपार्टमेंट में भाड़े पर रहने वाले वसंदानी परिवार इन दिनों बहुत बुरी हालत से गुजर रहा है। उसका मुख्य कारण आर्थिक मानसिक और शारीरिक समस्या है। कोई उनका  हल नहीं निकाल रहा है। कोई मदद के लिए भी खड़ा नहीं हो रहा है। अंततः इस जीवन से त्रस्त  होकर इसीलिए अपने और अपने परिवार के  लिए फांसी और मृत्यु का मार्ग चुना है। महाराष्ट्र के मुख्य मंत्री को पत्र लिख कर,  
 
    कुमार वसंदानी अपनी  पत्नी पुष्पा सहित  दो बेटे आदित्य और एकलव्य के साथ खार पश्चिम  पांचवे रास्ते खार पुलिस ट्रैफिक चौंकी के सामने महेश अपार्टमेंट में भाड़े पर रहते हैं। इनकी समस्या यह है। की कुमार अपने बच्चो की पढ़ाई लिखाई और उनका इलाज़ सही ढंग से उपलब्द नहीं करवा पा रहें हैं। एक वक़्त इनका गुजर बसर बहुत अच्छी तरह से चलता था।
 
 आज गरीबी और बच्चों की बिमारी से त्रस्त है। इनकी कोई मदद करने वाला नहीं है। इस समय वे लोग आर्थिक मानसिक और शारीरिक रूप से लाचार हैं। और भाड़ा भी नहीं भर सकतें हैं। बच्चों  की फीस भी नहीं भर सकते है। एक व्यापारी राजीव ठक्कर  ने कुमार वसंदानी के साथ धोका किया है।
 
कुमार ने राजीव के साथ मध्यांतर बनकर एक सौदा करवाया था। जिसमे कुछ व्यवहार की रकम तय की गयी थी। की काम होने के बाद कुमार को राजीव ठक्कर वो रकम देगा। इसमें कुमार के जीवन का खून और पसीना लगा हुआ था। ये कमाई उसके जीवन में उसकी गरीबी को दूर कर सकती थी।लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उसने कुमार को एक लाख का चेक और कुछ कैश दिया। और बाकी रकम देने का वादा किया। की जल्द ही वो रकम उसको दे देगा। लेकिन कुमार के साथ राजीव ने  धोखा किया है।
 
यदि वो रकम मिल जाती तो कुमार अपनी पत्नी के साथ अच्छा जीवन गुजर बसर करते हुए और बच्चों को पड़ा लिखा कर अच्छा इंसान बना सकते, आज राजीव की वजह से कुमार और उसके पत्नी बच्चों की पूरी जिंदगी गरीबी के दलदल में फंस गयी है। उसका जिम्मेदार है। राजीव, यदि ये कुमार वसंदानी परिवार आत्महत्या कर लेता है तो इसका जिम्मेदार राजीव अपठककर ही होगा।
 
 अपनी जिंदगी से तंग अपनी पत्नी बच्चों सहित इच्छा मृत्यु या फांसी की मांग की है। महाराष्ट्र के मुख्य मंत्री देवेन्द्र फडणवीस से, अब देखना यह है। की  मुख्य मंत्री महोदय कुमार वसंदानी परिवार की मदद करते हैं। या इच्छा मृत्यु के बारे में कुछ सोचतें है। अन्यथा  वसंदानी अपने मौत का दिन २६ जनवरी २०१५ गणतंत्र दिवस को मुकर्रर  करेगा।  
रिपोर्ट -अजय शर्मा 
Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .