यूपी ने साथ दिया तो जरूर बनूंगी प्रधानमंत्री: मायावती

0
24

नोएडा: गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट के लिए चुनाव प्रचार के अंतिम दौर में बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को यहां रैली की। वह दोपहर करीब दो बजे नॉलेज पार्क ग्राउंड पहुंचीं। हालांकि उनके साथ रालोद के मुखिया चौ. अजीत सिंह भी आने वाले थे लेकिन उनके और अखिलेश के न आने से कार्यकर्ताओं में मायूसी देखी गई। मायावती ने महागठबंधन के प्रत्याशी सतवीर नागर के लिए गुर्जर, दलित व मुस्लिम वोटरों को साधने की कोशिश की। इस दौरान रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने खुद को महागठबंधन की तरफ से पीएम पद का दावेदार बताते हुए कहा कि अगर यूपी ने साथ दिया तो वह जरूर प्रधानमंत्री बनेंगी और लोगों की समस्याओं को बिना कहे दूर करेंगी।

मुख्य बातें-

उत्तर प्रदेश में अच्छा रिजल्ट रहा तो प्रधानमंत्री बनने से कोई नहीं रोक सकता। मैं पीएम बनी तो आपकी समस्याएं बिना कहे दूर होंगी।

देश से मोदी व प्रदेश से योगी को भगाना है। किसी के बहकावे में न आएं, एकजुट होकर वोट करें।

एससी-एसटी के साथ ही मुस्लिम और गुर्जर वोट साधने की कोशिश, मैं जिले की बेटी और आपकी बहन हूं।

बसपा को छोड़कर किसी भी पार्टी ने उत्तर प्रदेश का विकास नहीं किया है। भू-माफियाओं ने किसानों से कौड़ियों के भाव जमीन खरीदकर नुकसान किया।

विपक्षियों को फंसाने के लिए केंद्र सरकार सीबीआई, ईडी व आईटी का गलत इस्तेमाल कर रही है।

रैली में मायावती ने भाजपा के साथ ही कांग्रेस की भी जमकर खिंचाई की। उन्होंने कहा कि भाजपा व कांग्रेस एक जैसी पार्टियां हैं।

2014 के वादों को पूरा न करने वाली भाजपा को चुनावी घोषणापत्र जारी करने का नैतिक अधिकार नहीं है।

मायावती ने गौतमबुद्ध नगर को जिला बनाने से लेकर बसपा शासनकाल में हुए विकास कार्यों को गिनाकर वोट मांगा।

आकलन है कि मायावती की रैली में 15-20 हजार लोगों की भीड़ पहुंची थी और बसों में भी भरकर लोग पहुंचे।