Home > Crime > मर्सिडीज़ हिट एंड रन केस- नाबालिग आरोपी का पिता अरेस्ट

मर्सिडीज़ हिट एंड रन केस- नाबालिग आरोपी का पिता अरेस्ट

accidentनई दिल्ली: मर्सिडीज़ हिट एंड रन केस में नाबालिग आरोपी 12th के स्टूडेंट के पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है ! जिन्हें आज कोर्ट में पेश किया जाएगा ! हादसे में 32 साल के सिद्धार्थ शर्मा की मौत हो गई थी। प्राप्त जानकारी अनुसार नाबालिग आरोपी का ये पहला अपराध नहीं है इसके पूर्व भी फरवरी 2015 को इस मर्सिडीज़ कार का गलत पार्किंग के लिए चालान हुआ था। अप्रैल और जून 2015 को इस गाड़ी का तेज रफ्तार के लिए चालान किया गया। इस साल मार्च में भी इस कार का जानलेवा ड्राइविंग के लिए 1000 रुपये का चालान हुआ था जो अब तक पैंडिंग है। सिद्धार्थ शर्मा की हत्या में गैर इरादतन हत्या का मामला है। इसलिए आईपीएसी की धारा 304ए के बजाए 304 लगाई गई है। ”

वहीँ यह बेटे की गलती पर पिता को अरेस्ट करने का पहला मामला है। पुलिस के मुताबिक, वह रिपीट ऑफेंडर है। उसी इलाके में एक्सीडेंट कर चुका है। वह शुक्रवार को ही 18 साल का हुआ। मर्सडीज चला रहे लड़के के पिता पर क्राइम के लिए उकसाने का केस दर्ज हुआ है।

पुलिस के मुताबिक, हादसे के वक्त कार की गति करीब 100 किमी प्रति घंटा के आसपास थी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि सिद्धार्थ करीब 10 फीट तक उछल गए। इस बात के कोई संकेत नहीं मिले कि ड्राइवर ने हादसे को बचाने की कोशिश की या वाहन की गति कम की। मामले से जुड़े किशोर के व्यवसायी पिता के आज कोर्ट में पेश होने की संभावना थी, लेकिन वे आज पेश नहीं हुए। उन्हें एक नोटिस जारी किया गया है। पुलिस ने इस मामले में 4 अप्रैल को केस भी दर्ज किया था। सिद्धार्थ के पिता हेमराज का कहना है कि मामले में 12वीं के किशोर से बड़ी गलती उसके पिता की थी। उन्होंने कहा, ‘पिता ने ही एक किशोर को कार लेकर दिल्ली की सड़क पर जाने दिया।’ पूरे मामले में पुलिस की भूमिका पर भी उन्‍होंने सवाल उठाए।

बता दें कि मृतक सिद्धार्थ शर्मा हादसे वाली जगह के करीब ही रहते थे। सोमवार रात सड़क क्रॉस करते वक्त वे हादसे के शिकार हो गए थे। पुलिस के मुताबिक, कार की रफ्तार 100 किमी प्रति घंटे के आसपास थी। पुलिस ने नाबालिग को पकड़ने के अलावा कार भी जब्‍ कर ली। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सिल्वर कलर की मर्सिडीज बेंज कार एक कंपनी के नाम से रजिस्टर्ड है और नाबालिग के पिता उसके मालिक हैं। बीते चार मौकों पर ट्रैफिक कानूनों के उल्लंघन में कार का नाम आ चुका है। दिल्ली पुलिस के एक सीनियर अफसर ने बताया, ”इसी कार को हादसे वाले इलाके में ही तीन मार्च को खतरनाक ड्राइविंग के लिए नोटिस जारी किया गया था। इससे पहले, दरियागंज इलाके में ओवरस्पीडिंग की वजह से दो बार चालान हो चुका है। इसके अलावा, दिल्ली के वसंत विहार इलाके में गलत पार्किंग की वजह से भी कार्रवाई हो चुकी है।

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .