Home > State > Delhi > लापता छात्र नजीब को लेकर जेएनयू में तनाव

लापता छात्र नजीब को लेकर जेएनयू में तनाव

nu-students-confine-v-c-senior-officials-in-campusनई दिल्ली- कई दिनों से लापता छात्र नजीब अहमद को लेकर दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में तनाव बढ़ता जा रहा है। छात्रों के घेराव की वजह से जेएनयू के वीसी और स्टाफ अभी तक एडमिन ब्लॉक में फंसे हुए हैं। वीसी ने बाहर आकर छात्रों और मीडिया से बात करने की कोशिश की लेकिन विरोध प्रदर्शन की वजह से वे ऐसा नहीं कर पाए। उन्होंने बस छात्रों के सामने एक रिक्वेस्ट नोट पढ़ा। ताकि उन लोगों को जाने दिया जाए जिनकी सेहत बिगड़ रही है।

इस मामले में वीसी ने कहा, ”प्रदर्शन कर रहे छात्रों को यह समझना चाहिए कि इस तरह अपने शिक्षकों को बंधक बनाना उचित नहीं है। इससे अपना जेएनयू प्रभावित होगा। हम लोगों ने 2:20 मिनट पर एडमिन बिल्डिंग से बाहर निकलने का प्रयास किया लेकिन प्रदर्शनकारी छात्रों ने हमें ऐसा नहीं करने दिया। ‘

यूनिवर्सिटी के वीसी का आरोप है कि ‘उन्‍हें गलत तरीके से बंधक बनाया गया। साथ ही उनका कहना है कि छात्र को ढूंढने की पूरी कोशिश की जा रही है। एम जगदीश कुमार ने कहा, ”हम इमारत के भीतर दिन में 2.30 बजे से बंद हैं। हमारे साथ एक महिला सहकर्मी भी हैं जो अस्वस्थ हो गईं हैं क्योंकि उनको मधुमेह है। ”

दूसरी ओर, जेएनयू के छात्रों ने अपने रुख का बचाव करते हुए दावा किया कि ‘किसी को अवैध रूप से बंधक नहीं बनाया गया। ‘ जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष मोहित पांडेय ने कहा, ”हमने जेएनयू के प्रशासनिक भवन में किसी को अवैध रूप से बंधक नहीं बनाया। बिजली और दूसरी सभी तरह की आपूर्ति है. हमने भीतर खाना भेजा है। ”

दूसरी तरफ, पुलिस विश्वविद्यालय परिसर के बाद बाहर मौजूद है और अंदर दाखिल होने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन की अनुमति का इंतजार कर रही है। इस मामले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली पुलिस के कमिश्नर से बात की और मामले पर पूरा ब्रीफ लिया।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com