बैठक के बारे में मध्यप्रदेश के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं जो इस घटना के (राम मंदिर निर्माण) गवाह बन रहे हैं। आज शाम छह से सात बजे के बीच सभी अपने घरों में दीये जलाएंगे। कल का दिन एतिहासिक है। मिट्टी के दीये आज और कल जलाए जाएंगे। मंत्रियों, सांसदों और विधायकों के घरों में सजावट के साथ रोशनी की जाएगी।’

भोपाल :कोरोना वायरस से संक्रमित चल रहे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को वर्चुअल कैबिनेट बैठक की। इस बैठक में चौहान ने कहा कि यह भगवान राम के भक्तों के संघर्ष और बलिदान का परिणाम है कि राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। चौहान ने बैठक में मौजूद मंत्रियों से कहा, ‘मैं आज और कल अस्पताल में दीया जलाऊंगा। आप भी मिट्टी के दीये जलाएं और अपने घरों को सजाएं। ‘

इस बैठक के बारे में मध्यप्रदेश के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं जो इस घटना के (राम मंदिर निर्माण) गवाह बन रहे हैं। आज शाम छह से सात बजे के बीच सभी अपने घरों में दीये जलाएंगे। कल का दिन एतिहासिक है। मिट्टी के दीये आज और कल जलाए जाएंगे। मंत्रियों, सांसदों और विधायकों के घरों में सजावट के साथ रोशनी की जाएगी।’

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया, ‘मुख्यमंत्री ने हमसे यह सुनिश्चित करने को कहा है कि 15 अगस्त तक राज्य के 15 लाख लोगों को राशन वितरित कर दिया जाए और 31 अगस्त तक 36 लाख 85 हजार लोगों को राशन वितरित करना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह निर्देश भी दिया कि अगर लोगों के आधार कार्ड तैयार नहीं हैं तो भी उन्हें राशन वितरण रुकना नहीं चाहिए।’

मिश्रा ने कहा कि राज्य में गरीबों का कोरोना इलाज मुफ्त में किया जाएगा, जैसा कि पहले हो रहा था। अमीर लोग और वो लोग जो कीमत अदा करके क्वारंटीन सुविधा का लाभ उठा सकते हैं वह चाहें तो ऐसा कर सकते हैं। राज्य गृह मंत्रालय होम क्वारंटीन के लिए अलग दिशा-निर्देश जारी करेगा।