Home > India > हमे मदरसे नही उच्च शिक्षा चाहिए: पूर्व मंत्री अमीन खान

हमे मदरसे नही उच्च शिक्षा चाहिए: पूर्व मंत्री अमीन खान

DEMO - PIC

DEMO – PIC

बाड़मेर- हमे अब मदरसे नहीं चाहिए खूब मदरसे जिले में हैं जिसकी संख्या हजारो में हैं अब तो हमे उच्च शिक्षा चाहिए हम कम्प्यूटर की तालीम के साथ जिन्दगी जीना चाहते हैं। यह बात बाड़मेर के अल्पसंख्यक वर्ग के नेता और पूर्व में मंत्री रहे अमीन खान ने कही। साथ ही कांग्रेस के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री और अल्पसंख्यक समुदाय के बड़े नेता अमीन खान ने बाड़मेर में आयोजित पत्रकार वार्ता में पिछले दिनों हुए मुख्यमंत्री के बाड़मेर दौरे पर सवाल खड़े किये हैं।

अमीन खान ने सिंधी मुस्लिम सम्मेलन पर किये सवाल खड़े करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की उस सभा में भीड़ शिलान्यास कार्यक्रम के लिए आई थी लेकिन दुखद यह रहा कि वहां लेकिन कोई शिलान्यास नही हुआ। अमीन खान के मुताबिक़ इसका अर्थ समझ नही आया कि कैसी शैक्षणिक संस्था या दूसरी संस्थान के शिलान्यास की सौगात मुख्यमंत्री ने दी हैं।

जबकि शिलान्यास छोडिये एक भी घोषणा तक नही की और ना ही मुस्लिम समाज के लिए कोई भी बेहतरीन उच्च शिक्षा प्रबन्ध के लिए बात की। अमीन खान के अनुसार गहलोत सरकार के द्वारा 4 आवासीय स्कूल अल्पसंख्यको के लिए स्वीकृत की वो वसुंधरा सरकार ने निरस्त कर दी गई। खान के मुताबिक राज्य में आईटीआई के लिए भी घोषणा हुई जहाँ 25 फीसद से ज्यादा अल्पसंख्यक हैं और जिले के रामसर में भवन भी बनकर तैयार लेकिन काम धरातल पर नही हुआ।

खान के मुताबिक आधुनिक शिक्षा के लिए प्रयास नही किये गए और बाड़मेर में मदरसे खूब हैं अब इसकी जरूरत नही इसलिए अब कम्प्यूटर तालीम का ज़माना हैं वो अल्पसंख्यको की जरूरत भी हैं। खान के मुताबिक बीजेपी सरकार के मूर्ख बनाने के तरीके हैं यह सम्मेलन और अल्पशिक्षित मुस्लिम समाज को धोखे में रखा गया।

गौरतलब हैं कि एपीजे अब्दुल कलाम नाम से मुस्लिम समाज के लिए शिक्षण संस्थान और अस्पताल बनाने के लिए शिलान्यास करने की बात कही गई लेकिन कोई शिलान्यास नही किया गया। खान ने कहा कि मुस्लिम सिंधी समाज इससे अनजान हैं और अँधेरे में रख कर पार्टी के साथ रहने का वादा किया हैं।

लेकिन पूर्ववर्ती सरकार की सुविधाओ को वसुंधरा राजे सरकार ने छीना हैं। उन्होंने जिलानी जमात के मुफ़्ती पर तंज कसते हुए कहा कि मुफ़्ती हमारे समाज के ज्ञानी हैं उनके मुंह से सीएम की तारीफ ठीक नही जिसने अल्पसंख्यक समाज के हक़ छीने।

उन्होंने कहा कि जो धार्मिक लोग जो हैं वो शांति नही चाहते और धन दौलत वाले लोग इन सियासी स्थिति से अनजान लोगो की अक्ल निकाल ले जाते है। दादरी मुद्दे पर बोले अमीन खान दादरी मुद्दे पर बोलते हुए अमीन खान ने कहा कि मैं राष्ट्रीय मुद्दों पर बोलने के काबिल नही लेकिन अब जो देश के हाल हैं वो ठीक नही हैं लोकतन्त्र में ठीक नही कि ऐसे हालत बने।

गंगाराम चौधरी का मूर्ती अनावरण भाजपाई बना
अमीन खान का बाड़मेर की राजनीती के लिए बड़ा बयान यह भी रहा कि उन्होंने गंगाराम चौधरी की मूर्ती अनावरण करने आई वसुंधरा राजे पर हमला बोला और कहा कि रामदान चौधरी और गंगाराम चौधरी सिर्फ एक जाति के नेता नही थे जबकि उनकी जयंती और मूर्ती अनावरण कार्यक्रम का भाजपाई करण किया गया उन्होंने कहा कि हमे दुःख हुआ कि उस मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में हमें सिर्फ इसलिए नही बुलाया गया क्योंकि हम कांग्रेस से है। जबकि इससे पहले यह रीति बाड़मेर में नहीं थी।

रिपोर्ट:- दुर्गसिंह राजपुरोहित

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com