Pandit-Jawaharlal-Nehruनई दिल्ली – मोदी सरकार पर आरोप लगा है कि उसके एक विभाग ने देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के विकीपीडिया पेज के साथ छेड़छाड़ की और उनके दादा गंगाधर नेहरू को मुस्लिम लिख दिया। कांग्रेस ने मोदी की माफी की मांग की है।

मामला 26 जून का है। नेहरू का विकीपीडिया पेज हैक कर वहां लिखी बातों को बदल दिया गया था। जांच में पता चला कि जिस आईपी एड्रेस (इंटरनेट प्रोटोकॉल) से इस साजिश को अंजाम दिया गया, वह सरकार के राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) का है।

खास बात यह है कि बाद में सूचना को ठीक कर दिया गया। ये बदलाव जिस आईपी से किए गए, वह भी एनआईसी का ही था।

विकीपीडिया पर लिखी बातों को संपादित करने वालों की पहचान करने वाले सॉफ्टवेयर से यह खुलासा हुआ है। सॉफ्टवेयर के ट्विटर हैंडल @AnonGoIWPEdits पर साजिश सार्वजनिक की गई। यह ट्विटर हैंडल प्रणेश प्रकाश ने बनाया है।

प्रणेश सेंटर फॉर इंटरनेट एंड सेफ्टी पर पॉलिसी डायरेक्टर हैं। उनके मुताबिक, विकीपीडिया पेज पर ये बदलाव एक ही आईपी वाले सिस्टम से किए गए। जब आईपी को whois.domaintools.com पर दर्ज किया गया तो पता चला कि वह एनआईसी का है।

पूरे मामले को लेकर अब कांग्रेस ने भाजपा पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्त रणदीप सूरजेवाला ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मांग की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश से माफी मांगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here