Nepal landslides

नेपाल- नेपाल में आज एक बार फिर भूकंप के ताजा झटके महसूस किए गए। कल यहां आए शक्तिशाली भूकंप में 65 लोगों के मारे जाने के बाद डरे हुए हजारों लोगों ने खुले में ही रात बिताई। दो सप्ताह पहले 8,000 से ज्यादा जिंदगियों को खो चुका यह हिमालयी देश पहले ही तबाह हो चुका है।

नेपाल के नेशनल इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर ने कहा कि कल यहां आए 7.3 तीव्रता के भूकंप के कारण मकान और इमारतें ढह गईं। इसके कारण 65 लोग मारे गए और लगभग 2,000 लोग घायल हो गए। काठमांडू के पूर्वोत्तर में स्थित दोलखा जिले में सबसे ज्यादा लोगों के हताहत होने की खबर है। मृतक संख्या बढ़ने की आशंका है।

पुलिस ने कहा कि ताजा भूकंप से 75 में से 32 जिले प्रभावित हुए और कई मकान ढह गए। भूकंप का केंद्र काठमांडू से 83 किलोमीटर पूर्व में माउंट एवरेस्ट के पास 15 किलोमीटर की गहराई में था। इसके 30 मिनट बाद 6.3 तीव्रता का एक झटका आया। आज सुबह भी बड़े भूकंप के बाद आने वाले झटके जारी रहे।

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण के अनुसार, कल के भूकंप के बाद कम से कम 17 बड़े झटके आए हैं। भूकंप के कारण भूस्खलन की घटनाएं हुईं, जिनके चलते कई जिलों के सुदूर गांवों को जाने वाली सड़कें अवरूद्ध हो गईं। भूकंप और उसके बाद आने वाले तीव्र झटकों के कारण लोगों को खुले में ही प्लास्टिक के टैंटों में रात बितानी पड़ी। ये टैंट सर्द रात में बमुश्किल ही कुछ राहत दे पा रहे थे।

अमेरिका का एक सैन्य हेलीकॉप्टर मदद उपलब्ध करवाने के दौरान कथित तौर पर लापता हो गया। इसमें छह अमेरिकी नौसैनिक और दो नेपाली सैनिक सवार थे। लापता हेलीकॉप्टर की तलाश जारी है। बचावकर्मी हालिया भूकंप में जीवित बचे लोगों की तलाश में जुटे हैं। कल आए भूकंप के बाद उन लोगों में घबराहट फैल गई, जो कि 25 अप्रैल को आए 7.9 तीव्रता के भीषण भूकंप के बाद से खुले में ही रह रहे हैं। उस भूकंप में 8,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे, हजारों इमारतें ढह गई थीं और गांव तबाह हो गए थे।

नेपाल का एकमात्र अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा कल कुछ समय के लिए बंद कर दिया गया था और काठमांडो आने वाली उड़ानों का मार्ग बदल दिया गया था। अधिकारियों ने कहा कि कल काठमांडो के नयाबाजार इलाके में भूकंप के दौरान पांच मंजिला एक इमारत ढह गई। अधिकारियों ने सभी स्कूलों को अगले दो सप्ताह तक बंद रखने के आदेश जारी किए हैं।

कल के भूकंप का असर बिहार, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश के कई शहरों में पड़ा और ये झटके पूर्व और पूर्वोत्तर भारत के कई इलाकों में महसूस किए गए। चीन में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। तिब्बत में एक महिला की मौत हो गई। एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here