Home > India News > मंदिर बनाने का मेरा सौभाग्य नहीं लेकिन मंदिर गिराने भी नहीं दूंगा

मंदिर बनाने का मेरा सौभाग्य नहीं लेकिन मंदिर गिराने भी नहीं दूंगा

बाड़मेर: अखिल भारतीय श्री जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक युवक महासंघ के अन्तर्राष्ट्रीय चैयरमेन व राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग भारत सरकार के सदस्य (केन्द्रीय राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त) सुनील सिंघी के केन्द्रीय राज्यमंत्री बनने के बाद प्रथम बार नववर्श की पूर्व संध्या पर बाड़मेर आगमन पर युवक महासंघ बाड़मेर द्वारा उनका गाजे-बाजे व ढोल-ढमाके के साथ स्वागत किया गया।

अखिल भारतीय श्री जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक युवक महासंघ शाखा बाड़मेर अध्यक्ष अशोक बोथरा व महामंत्री चन्द्रप्रकाश बी. छाजेड़ ने बताया कि सुनील सिंघी के आगमन पर आयोजित अभिनन्दन समारोह में सर्वप्रथम युवक महासंघ के अन्तर्राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनिल सिंघी, राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष विकास बोहरा, प्रदेश उपाध्यक्ष रंजीत कवाड़, राजस्थान 15 सूत्री कार्यक्रम स्टेट काॅर्डिनेटर हनीफखान आर.ए.एस. का माला, साफा, तिलक व माला व मोमन्टो भेंट कर अतिथियों का स्वागत किया गया। तत्पश्चात् सुश्री सोनु बोथरा व माया जैन द्वारा स्वागत गीत की प्रस्तुति दी गई।

युवक महासंघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एडवोकेट मुकेश जैन ने युवक महासंघ की गतिविधियों व उद्देश्यों की जानकारी देते हुए कहा कि युवक महासंघ की पुरे भारत वर्ष में लगभग 500 से भी अधिक शाखाएं है एवं भारत के साथ साथ सुनीलजी के प्रयास से विदेशों में भी युवक महासंघ की शाखाएं खोली गई। युवक महासंघ के मुख्य उद्देश्यों में भगवान महावीर जन्म कल्याणक की तरफ वर्तमान अवसर्पिणी काल के प्रथम तीर्थंकर आदिनाथ भगवान का जन्म कल्याणक मनाना, जिनालय शुद्धिकरण, वैयावच्च, साधर्मिक सहयोग आदि है। युवक महासंघ एक चैनल है जो व्यक्ति से व्यक्ति को जोड़ता है व हर व्यक्ति के सुख-दुःख में सहभागी बनता है।

युवक महासंघ के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंघी ने कहा कि मैं समाज का एक श्रावक हूं तथा समाज के लिए मुझे बड़े से बड़ा बलिदान देने की भी नौबत आयेगी तो मैं उसके लिए सदैव तत्पर रहूंगा। जयपुर के पदमनाभपुर जैन मन्दिर को जब राज्य सरकार द्वारा एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहण किया जा रहा था तब वो मामला मेरे समक्ष आया तो मैने राज्य सरकार से व राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से व प्रशासन से बात की ओर कहा कि मैं मंदिर बना तो नहीं सकता शायद मेरा पुण्य कमजोर होगा लेकिन मैं मंदिर को तोड़ने नहीं दूंगा।

उन्होनें कहा कि जैनों की संख्या पुरे देश में दो करोड़ के लगभग है। हम अल्पसंख्यक ये बात हमारे को स्वीकार करनी होगी। सरकार अल्पसंख्यकों के लिए जो योजनाएं लागू कर रही है वो सुविधाएं हमारे को लेनी होगी। सिंघी ने कहा कि आज के दिन जहां लोग नया वर्ष मनाने के लिए विभिन्न स्थानों पर जाती है लेकिन बाड़मेर नगर की जैन धर्मप्रेमी उन सबको छोड़कर मुझे सुनने के लिए एकत्रित हुई है जिससे मैं अभिभूत हो गया हूं ओर बाड़मेर मेरे जहन में बस गया है। मैं बाड़मेर को केन्द्र से जोड़ता हूं जब भी आपको किसी प्रकार की समस्या हो आप युवक महासंघ के माध्यम से मुझे केन्द्र तक अपनी समस्या को पहुंचा सकते है।

उन्होनें उपस्थित जनसुमदाय को अल्पसंख्यक की विभिन्न योजनाएं व उनसे होने वाले लाभ की जानकारी दी। उन्होनें कहा समय बहुत तेजी से भगता है और समाज में अभी तक बहुत बड़ा अभाव है, काम करके कुछ न कुछ प्रभाव बढ़ाना होगा तभी तो लगाव बड़ा होगा। अभाव में प्रभाव में लगाव करने के लिए आपको परिश्रम की पराकाष्ठा करना पड़ेगा। उस परिश्रम की पराकाष्ठा में आपको डिलीवर करना पड़ेगा।

संकल्प के साथ किये कार्य से पूर्ण पराकाष्ठा की प्राप्ति होती है। आपके बीच ओर भारत सरकार व राज्य सरकार के बीच में पोस्टमैन का कार्य करने आया हूं, मैं आपका ऐसा डाकिया बनना चाहता हूं कि आपकी डाक को लेकर भारत सरकार के पास लेकर जाऊंगा भारत सरकार के बीच में रखूंगा, राज्य सरकार के बीच में रखूंगा व उस आॅर्डर को उस डाक को वापस काम के साथ आपको डिलीवर करूंगा, मैं मात्र आदान-प्रदान का काम नही करूंगा मैं काम के साथ आने वाला व्यक्ति हूं। अच्छी व्यवस्थाएं व्यक्ति के आचारण से आती हूं। जैन संतों के तप-त्याग से जैन समाज की महिमा बढ़ी हैं ह से हिन्दू व म से मुसमलान ये दोनों साथ होगें तब हम बनेगा। हिन्दू और मुसलमान के प्रेम से ही हम की अवधारणा पुष्ट होती है।

राजस्थान के 15 सूत्री कार्यक्रम स्टेट काॅर्डिनेटर हनीफ खान आर.ए.एस. ने भारत सरकार द्वारा अल्प संख्यकों के लिए लागू कि गई विभिन्न योजनाओं कि जानकारी देते हुए छात्रवृति, व्यवसायिक ऋण, शिक्षा ऋण, अनुप्रति योजना, नई रोशनी, सीखो-कमाओ, हमारी धरोहर, नई उड़ान,, फ्री कोचिंग एवं एलआईड स्कीम, अल्पसंख्यक की संस्थाओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देना, अल्पसंख्यक छात्रावास, एमएसडीपी आदि योजनाओं के बारे विस्तृत जानकारी व उनके लाभ बताये व अधिक से अधिक इन योजनाओं से जुड़कर उनके लाभ प्राप्त करने का आह्वान किया।

युवक महासंघ के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष विकास बोहरा द्वारा युवक महासंघ बाड़मेर की नवगठित कार्यकारिणी के अध्यक्ष अशोक बोथरा, उपाध्यक्ष संजय भंसाली, महामंत्री चन्द्रप्रकाश बी. छाजेड़, कोषाध्यक्ष दीक्षित बोथरा, संगठन मंत्री हरीश बोथरा, प्रवक्ता अशोक संखलेचा भूणिया कार्यकारिणी सदस्य पुरूषोतम बोथरा, कैलाश धारीवाल, मीठालाल पड़ाईया, हंसराज संखलेचा, नरेश सिंघवी, गौतम संखलेचा, सुनील बोहरा, गौतम चमन, बाबूलाल मालू, महेश सिंघवी, अरूण वडेरा, सम्पत बोथरा, कैलाश संखलेचा, रमेश भंसाली, जितेन्द्र बांठिया सलाहकार पुखसा सिंघवी, मदनलाल छाजेड़ को संगठन के प्रति कर्तव्यनिष्ठा की शपथ दिलाई गई।

इस अवसर पर जैन श्रीसंघ बाड़मेर अध्यक्ष सम्पतराज बोथरा, चिंतामणदास कोटड़िया, रीखबदास मालू, शंकरलाल पड़़ाईया, युवक महासंघ प्रदेश सदस्य संजय बोहरा, जिलाध्यक्ष पवन मालू सहित युवक महासंघ बालोतरा व जालोर शाखा के सदस्य एवं शहर के जैन समुदाय के जेठमल जैन, वेदमल बोहरा कैलाश कोटड़िया, प्रवीण बोथरा, ललित बोथरा, मुकेश बोहरा अमन, कैलाश बोहरा, कपिल मालू, कंचन जैन हालावाला, शाति सेठिया पुरूष एवं महिलाएं उपस्थित थी। जिलाध्यक्ष पवन मालू ने आभार ज्ञापित किया।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com