रमजान से पहले औवेसी ने मुस्लिमों से की नमाज के लिए ये अपील

 

उन्‍होंने कहा, ‘जामिया निजामिया के एक बयान में हैदराबाद के मुफ्तियों और उलेमाओं ने अपील की है कि रमजान के आने वाले महीने के दौरान घर में ही तरावीह पेश की जाए। बेशक, ये दिशा-निर्देश केवल तेलंगाना और आंध्रप्रदेश पर लागू नहीं होते हैं, पूरे भारत में इनका सख्ती से पालन किया जाना है।’

कोराना वायरस की महामारी के चलते पूरा देश इस समय लॉकडाउन का सामना कर रहा है। लॉकडाउन के चलते देश में आम गतिविधियां वैसे तो ठप हैं लेकिन लॉकडाउन के उल्‍लंघन की खबरें भी देशभर से सामने आ रही हैं।

ऐसी घटनाओं से कोरोना की खतरा बढ़ने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। अप्रैल माह में ही मुस्लिम भाइयों के रमज़ान शुरू हो रहे हैं।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने रमजान के पवित्र माह के दौरान तरावीह घर में ही करने की अपील मुस्लिम भाइयों से की है।

एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा, ‘जामिया निजामिया के एक बयान में हैदराबाद के मुफ्तियों और उलेमाओं ने अपील की है कि रमजान के आने वाले महीने के दौरान घर में ही तरावीह पेश की जाए। बेशक, ये दिशा-निर्देश केवल तेलंगाना और आंध्रप्रदेश पर लागू नहीं होते हैं, पूरे भारत में इनका सख्ती से पालन किया जाना है।’

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की महामारी के चलते इस समय धार्मिक स्‍थलों को बंद रखा गया है और यहां लोगों को एकत्रित होने से रोकने के निर्देश हैं। लोगों के एकत्र होने से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा है।

इससे पहले, इसी माह शबे-बारात के दौरान भी मुस्लिमों से मस्जिद और कब्रिस्‍तान के बजाय घर में ही इबादत करने की अपील की गई थी। दूसरे धर्म के लोगों से भी धार्मिक स्‍थलों पर एकत्रित न होने की अपील की गई है।

गौरतलब है कि कोरोनावायरस का संक्रमण भारत में लगातार पांव पसारता ही जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोनावायरस से संक्रमितों की संख्या 13387 हो गई है।

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1007 नए मामले सामने आए हैं और 23 लोगों की मौत हुई है। देश में कोरोना से अब तक 437 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 1749 मरीज इस बीमारी को हराने में कामयाब भी हुए हैं।

अच्‍छी बात यह है कि कोरोना से रिकवरी रेट की बात की जाए तो पिछले तीन दिनों के भीतर यह बढ़ा है। बुधवार को 11.41 प्रतिशत, गुरुवार को 12.02 प्रतिशत और शुक्रवार को यह रिकवरी रेट बढ़कर 13.06 प्रतिशत हो गया।

राजधानी दिल्ली में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 62 मामले सामने आने के साथ कुल मामले बढ़कर 1640 हो गये और इसके चलते छह लोगों की मौत हो गयी है।

दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

हालांकि 20 अप्रैल से लॉकडाउन के दौरान उन इलाकों में कुछ छूट भी दी जाएंगी जहां कोरोना के मामले कम हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की थी।