गंगा घाट पर पीएम मोदी फिसलकर गिरे, सिक्योरिटी गार्ड्स ने उठाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार दोपहर कानपुर में गंगा बैराज की सीढ़ियों पर चढ़ते वक्त लड़खड़ाकर गिर गए, जिसके बाद पीएम के सिक्योरिटी गार्ड्स ने उन्हें उठाया।

पीएम मोदी शनिवार को पहले नेशनल गंगा काउंसिल मीटिंग के सिलसिले में कानपुर पहुंचे थे। पीएम नरेंद्र मोदी ने कानपुर में नमामि गंगे प्रोजेक्ट की समीक्षा की।

पीएम मोदी के साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ समेत उनकी कैबिनेट के कई मिनिस्टर कानपुर में मौजूद रहे। पीएम मोदी कानपुर स्थित अटल घाट की सीढ़ियो पर चढ़ते वक्त गिर पड़े।

हालांकि सिक्योरिटी गार्ड्स ने उन्हें तत्काल उठाया और पीएम मोदी को किसी प्रकार की चोट नहीं लगी। पीएम मोदी कानपुर गंगा घाट पर नंगे पैर ही गए थे शायद इस कारण ही ये लड़खड़ाकर गिए गए थे।

पीएम मोदी ने आज राष्ट्रीय गंगा परिषद की पहली बैठक की अध्यक्षता की वह महत्वाकांक्षी नमामि गंगे परियोजना की समीक्षा करने के लिए कानपुर में हैं।

प्रधान मंत्री कार्यालय की तरफ से पहले ही बता दिया था कि वह गंगा की सफाई के पहलुओं पर किए गए कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे और विचार-विमर्श करेंगे।

एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई लोगों ने उनका स्वागत किया था। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके बताया कि आज राष्ट्रीय गंगा परिषद की पहली बैठक की अध्यक्षता करने पहुंचे आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का चकेरी एयरपोर्ट, कानपुर पर स्वागत किया।

पीएम मोदी के दौरे से पहले जिला के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कहा था कि पीएम मोदी केंद्रीय मंत्रियों, यूपी, उत्तराखंड और बिहार के मुख्यमंत्रियों और विभिन्न केंद्रीय विभागों के सचिवों के साथ गंगा परिषद की बैठक करेंगे।

दो गंगा राज्यों के मुख्यमंत्रियों में पश्चिम बंगाल और झारखंड के मुख्यमंत्री इस बैठक में शामिल नहीं हो सकते हैं।