राम मंदिर को भूल मुसलमानों की वकील बनी सरकार – तोगड़िया

0
14

अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि चार साल में सरकार ने राम मंदिर पर कोई चर्चा तक नहीं की है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को करोड़ों हिंदुओं ने वोट किया लेकिन बहुमत मिलते ही वह मुस्लिम महिलाओं की हितैशी बन गई और ट्रिपल तलाक पर कानून बना रही है।

यूपी के बहराइच जिले के पलक होटेल में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रवीण तोगड़िया ने कहा, ‘राम मंदिर बनवाने के लिए करोड़ों हिन्दुओं ने बीजेपी को पूर्ण बहुमत दिया था कि ये राम मंदिर की पैरोकारी करेंगे लेकिन प्रचंड बहुमत मिलते ही ये मुस्लिम महिलाओं के वकील बन गए।’ प्रवीण ने आगे कहा, ‘राम मंदिर के नाम पर सत्ता हासिल करने वाले लोग सौ करोड़ हिन्दुओं द्वारा पूर्ण बहुमत दिए जाने के बाद अब संसद में बैठकर ट्रिपल तलाक पर कानून बना रहे हैं।’

उन्होंने कहा कि मंदिर 67 एकड़ में बने, अयोध्या में कोई नई मस्जिद न बने और बाबर के नाम पर पूरे भारत मे कुछ भी न बने यह करवाने की अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद व राष्ट्रीय बजरंग दल पूरे जोर-शोर से तैयारी कर रहा है।
तोगड़िया ने कहा कि जब आडवाणी ने सोमनाथ मन्दिर के लिए रथ यात्रा निकाली थी तब भी केस कोर्ट में था, जब मुलायम सिंह ने कारसेवकों पर गोलियां चलवाईं तब भी केस कोर्ट में था अगर कोर्ट से ही मंदिर बनना था तो आडवाणी को रथ यात्रा निकालने की आवश्यकता क्यों पड़ी?

राम मंदिर के लिए कानून क्यों नहीं बन सकता?”सरकार से सवाल करते हुए तोगड़िया ने कहा कि शाहबानो केस में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया तब भी संसद ने कानून बनाया तो राम मन्दिर के लिए ही कानून क्यों नही बन सकता?

उन्होंने दावा किया कहा कि गो हत्या रोकने, कश्मीर में हिन्दुओं को पुनर्स्थापित किए जाने, अप्रवासी घुसपैठियों को भारत से हटाने, किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना अधिक मूल्य दिलाने के साथ हिन्दू नौजवानों को नौकरी दिलाने की वे मांग करते रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे।