Home > India News > प्रवीण तोगड़िया हुए ‘गायब’

प्रवीण तोगड़िया हुए ‘गायब’

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के नेता प्रवीण तोगड़िया की कथित गिरफ्तारी पर सोमवार को अहमदाबाद में हंगामा हुआ। वीएचपी कार्यकर्ताओं के मुताबिक राजस्थान पुलिस तोगड़िया को गिरफ्तार करले ले गई। अहमदाबाद के जॉइंट पुलिस कमिश्नर जेके भट्ट का कहना है कि तोगड़िया को न गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार किया है और न राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

राजस्थान पुलिस ने भी तोगड़िया की गिरफ्तारी से इनकार किया है। वहीं, अहमदाबाद पुलिस ने कहा है कि तोगड़िया की तलाश की जा रही है।

अहमदाबाद पुलिस क्राइम ब्रांच ने सोमवार शाम को इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें कहा गया है कि प्रवीण तोगड़िया की तलाश की जा रही है। पुलिस के मुताबिक तोगड़िया विश्व हिंदू परिषद के मुख्यालय से सुबह 10:45 पर निकले थे। वह एक रिक्शे से निकले थे।

अहमदाबाद पुलिस का कहना है कि पाडली ऑफिस की सीसीटीवी फुटेज तलाशी जा रही हैं। यहीं तोगड़िया को आखिरी बार देखा गया था। पुलिस ने कहा है कि उन्हें इस मामले में तोगड़िया के परिवार की ओर से अब तक गुमशुदगी की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है।

अहमदाबाद पुलिस ने कहा है कि वह वीएचपी के रणछोड़भाई भारवाड़ और दूसरे कार्यकर्ताओं के साथ संपर्क में है। तोगड़िया की तलाश में चार टीमें लगी हुई हैं। पुलिस ने वीएचपी कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील की है।

वीएचपी कार्यकर्ताओं का कहना है कि राजस्थान पुलिस सोमवार को प्रवीण तोगड़िया को विश्व हिंदू परिषद के दफ्तर से अपने साथ ले गई थी। विश्व हिंदू परिषद के दफ्तर में मौजूद लोगों ने इसके विरोध में अहमदाबाद-गांधीनगर हाईवे पर प्रदर्शन भी किया।

जानकारी के मुताबिक राजस्थान पुलिस को उनकी तलाश एक पुराने केस के सिलसिले में थी। राजस्थान पुलिस के डीजीपी ओपी गलहोत्रा ने कहा है कि तोगड़िया की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

राजस्थान के गंगापुर शहर में प्रवीण तोगड़िया के खिलाफ केस दर्ज हुआ था। इसमें तोगड़िया को कोर्ट के सामने पेश होना था, लेकिन उनकी पेशी नहीं हुई थी। इसके बाद कोर्ट ने तोगड़िया के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था।

इससे पहले, वीएचपी नेता तोगड़िया गुजरात विधानसभा चुनावों के दौरान बीजेपी के हिंदुत्व कार्ड पर सवाल उठाने की वजह से चर्चा में आए थे। उन्होंने कहा था कि हिंदुओं के नाम मपर टोकनिजम बंद होना चाहिए। उन्होंने कहा था, ‘राम मंदिर बनाने की बात करो, कश्मीर में हिंदुओं को बसाने की बात करो और गुजरात के विकास की बात करो। बताओ कि गुजरात में किसानों की हालत इतनी खराब क्यों है?’

फिल्म पद्मावत पर भी तोगड़िया का बयान सुर्खियों में रहा था। उन्होंने पूछा था कि क्या संजय लीला भंसाली मुहम्मद पैगम्बर पर फिल्म बनाने की हिम्मत कर सकते हैं? हमारी मां पद्मिनी पर क्यों फिल्म बनाने की हिम्मत हो रही है?

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com