Home > Election > झूठे प्रचार के बल पर भाजपा लड़ रही चुनाव-प्रियंका गांधी

झूठे प्रचार के बल पर भाजपा लड़ रही चुनाव-प्रियंका गांधी

फतेहपुर। लोकसभा चुनाव के दौरान प्रदेश में कांग्रेस को संजीवनी देने के लिए राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा प्रियंका गांधी को जब से राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी की कमान सौंपी गयी है तब से लगातार प्रियंका गांधी पूर्वी उत्तर प्रदेश में रोड शो एवं जनसभाएं करके कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करने के साथ ही लोकसभा प्रत्याशियों के पक्ष में माहौल बनाने का काम कर रही हैं। इसी क्रम में ढाई सप्ताह बाद पुनः एक बार फिर राष्ट्रीय महासचिव ने जनपद में दो विधानसभाओं में चुनावी जनसभाओं को सम्बोधित कर मतदाताओं को भाजपा से सावधान करते हुए लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान को भारी मतों से विजयी बनाने की अपील की।

खागा विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत नगर के तहसील रोड स्थित एक हांते व अयाह-शाह विधानसभा क्षेत्र के गाजीपुर कस्बे में चुनावी जनसभाएं सम्बोधित करने के लिए कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी बुधवार को जनपद आयीं। खागा नगर में निर्धारित समय से लगभग बीस मिनट देरी से उनका हेलीकाप्टर जैसे ही आसमान में दिखा प्रियंका गांधी जिन्दाबाद, राहुल व कांग्रेस पार्टी जिन्दाबाद के नारों से पण्डाल गूंज उठा। हेलीपैड से कार द्वारा जनसभा स्थल आते ही एक बार फिर उपस्थित लोगों ने नारे लगाकर प्रियंका गांधी का इस्तकबाल किया। मंच पर पहुंचने के बाद प्रत्याशी राकेश सचान ने उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित किया। तत्पश्चात मुख्य अतिथि प्रियंका गांधी ने उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि मंच से उनकी व उपस्थित जनसमूह की दूरी बहुत है।

कांग्रेस पार्टी जनता व नेता के बीच की दूरी को खत्म करने के प्रयासों में लगी है। उन्होने कहा कि जनता से सीधा संवाद करने की मुहिम छेड़ी गयी है। उन्होने कहा कि जुमलेबाजी व झूठ के बल पर वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने देश में जीत हासिल कर केन्द्र की सत्ता हथियाई थी। सत्ता हासिल होने के बाद भाजपा के लोग जनता से दूरी बनाये रहे। अब चुनाव का वक्त आते ही जनता के बीच जाना शुरू कर दिया। उन्होने कहा कि भाजपा विपरीत राजनीति पर उतर आयी है। जनता से उसके रिश्ते खत्म हो चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पूरे पांच वर्षों तक विदेशों की यात्रा करते रहे। जनता के बीच जाने का विचार उनके मन में कभी नहीं आया। जबकि देश व प्रदेश की हालत बद से बदतर हो गयी। उन्होने उदाहरण देते हुए बताया कि पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस के एक गांव में वह प्रचार के लिए पहुंची। जहां उपस्थित महिलाओं ने उन्हें बताया कि उनके सांसद जी कभी यहां नहीं आये। उन्हें किसी भी सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिला। उन्होने कहा कि भाजपा ने पूरे पांच साल सिर्फ उद्योगपतियों को बढ़ाने की नीतियां लागू की हैं। गरीब, किसान, नौजवान के लिए कोई भी नीति या नियम लागू नहीं किया गया।

पांच वर्ष पूरे होते ही भाजपा ने झूठ का प्रचार करना शुरू कर दिया। विकास के बल पर नहीं झूठे प्रचार के दम पर भाजपा इस लोकसभा चुनाव को जीतना चाहती है। उन्होने कहा कि दो माह से मोदी व भाजपा के कई अन्य नेता झूठे प्रचार के दम पर जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं। जबकि प्रदेश के किसानों की हालत बद से बदतर है। किसान अन्ना जानवरों से बेहद परेशान हैं। पूरी रात खेतों में गुजारकर अपनी फसलों की रक्षा कर रहे हैं। उन्होने फिर एक उदाहरण दिया कि फैजाबाद में प्रचार के दौरान किसानों ने अपना दुखड़ा उनसे रोया और इस क्रूर सरकार से बचाने की गुहार लगायी। उन्होने कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में देश के युवाओं को दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था। लेकिन आज की स्थिति देखी जाए तो यह वादा सफेद झूठ साबित हुआ और देश के लगभग पचास हजार कर्मियों की रोजी-रोटी पर केन्द्र सरकार ने लात मारने का काम किया है। उन्होने संप्रग सरकार के कार्यकाल में शुरू की गयी मनरेगा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना को मोदी सरकार खत्म करने के प्रयासों में जुटी रही।

छह-छह माह तक मजदूरों को भुगतान नहीं किया गया। इतना ही नहीं मनरेगा में अब मजदूरों की जगह जेसीबी से काम करवाया जा रहा है। उन्होने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में आर्थिक संकट आ गया। पीएम मोदी ने एक बंद कमरे में अपने चंद नेताओं के साथ षड़यंत्र रचकर अचानक देर रात नोटबंदी की घोषणा कर दी। जिससे पूरे देश में आर्थिक संकट की स्थिति उत्पन्न हो गयी।

घर की बचत बैंक ले गयी। उन्होने कहा कि कालाधन व खातों में पन्द्रह-पन्द्रह लाख रूपये भी नहीं आये। उन्होने कहा कि दो दिनों पूर्व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बयान दिया कि जेल के मैदानों में अब आवारा पशुओं को बंद किया जायेगा। इस बयान पर चुटकी लेते हुए कहा कि प्रदेश में गुण्डे माफियाओं को छोड़कर अब जेल के मैदानों में अन्ना जानवर बांधे जायेंगे। उन्होने कहा कि पीएम मोदी अपने आपको देश का चौकीदार बता रहे हैं। जबकि देश का हजारों करोड़ रूपया लेकर कुछ चुनिन्दा लोग इस देश को छोड़कर भाग निकले। तब चौकीदार कहां था।

उन्होने कहा कि गरीबों के नहीं बल्कि अमीरों के चौकीदार होते हैं। उन्होने राज्य कर्मचारियों की स्थिति पर बोलते हुए कहा कि शिक्षामित्र, अनुदेशक, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां, आशा बहुओं को कड़ी मेहनत करने के बाद भी मानदेय नहीं दिया जा रहा है। जिससे उनके सामने आर्थिक संकट पैदा हो गया है। अपने हक की आवाज उठाने वाले कर्मचारियों को लाठी मारकर दबाने का प्रयास केन्द्र व प्रदेश सरकारें कर रही हैं।

उन्होने कहा कि देश के गरीबों की दशा को सुधारने के लिए ही कांग्रेस द्वारा अपने चुनावी घोषणा पत्र में न्यूनतम आय योजना के तहत 72000 रूपये वार्षिक देने की योजना बनायी गयी है। उन्होने कहा कि कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी होते ही जुमलेबाज भाजपाई उनकी पार्टी पर ही इल्जाम लगाने लगे। जबकि हकीकत सबके सामने हैं।

मोदी व योगी सरकार की नियत व नीति बेहद खराब है। उन्होने जनता का आहवान किया कि अब समय आ गया है अपने अंदर जागरूकता लायें। जागरूकता ही सच्ची राष्ट्र भक्ति है। उन्होने आगामी छह मई को होने वाले मतदान में कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान को भारी मतों से विजयी बनाये जाने का आहवान किया।

जनसभा की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय ने की। इस मौके पर पूर्व विधायक प्रेमदत्त तिवारी, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अभिमन्यु सिंह, हुसैनगंज विधानसभा की पूर्व प्रत्याशी ऊषा मौर्या, खागा विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी ओम प्रकाश गिहार, निर्मल तिवारी, शहर अध्यक्ष मो0 आरिफ गुड्डा, बच्छराज मौर्य, संतोष कुमारी शुक्ला, पूर्व ब्लाक प्रमुख दुरबीन सिंह यादव, कलीम उल्ला, नरसिंह यादव, सरफराज अहमद, अरूण जायसवाल, पियूष दीक्षित, पूर्व विधायक अमरनाथ सिंह अनिल, शहाब अली, अमित मिश्रा नीटू, औसाफ अहमद, चौधरी मोईन राईन, आदित्य श्रीवास्तव, प्रशांत कुमार श्रीवास्तव एडवोकेट आदि मौजूद रहे।

प्रियंका की फिसली जुबान
फतेहपुर। खागा विधानसभा के अन्तर्गत नगर के तहसील रोड स्थित एक हाते में कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के पक्ष में चुनावी जनसभा में सम्बोधन के दौरान राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की जुबान फिसल गयी। वह प्रत्याशी राकेश सचान को बार-बार राहुल सचान कहकर सम्बोधित कर रही थी। जिससे पण्डाल में ठहाके भी लगे। कुछ लोग पूछने लगे कि अरे भाई ये राहुल सचान कौन है।

अपेक्षा के मुताबिक नहीं जुटी भीड़
फतेहपुर। लोकसभा चुनाव के तहत कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के पक्ष में खागा विधानसभा क्षेत्र अन्तर्गत नगर के तहसील रोड स्थित एक हाते व गाजीपुर कस्बे में मजार के समीप चुनावी जनसभाओं का आयोजन किया किया गया था। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने शिरकत करके प्रत्याशी के पक्ष में माहौल बनाने का काम किया। इन दोनों जनसभाओं में अपेक्षा के मुताबिक भीड़ नहीं जुट सकी। वहीं प्रत्याशी भीड़ न जुट पाने पर सफाई देते रहे कि इस समय गेहूं कटाई का दौर चल रहा है। जिसके चलते किसान व्यस्त हैं।

अव्यवस्थाएं रहीं हावी
फतेहपुर। खागा व गाजीपुर में कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान द्वारा आयोजित की गयी चुनावी जनसभाओं में अव्यवस्थाएं हावी रहीं। दूर-दराज से आयी जनता के लिए न तो पानी की व्यवस्था थी और न हीं सही तरह से पण्डाल लगवाया गया था। इतना ही नहीं जब प्रियंका गांधी दोनों स्थानों पर मंच पर पहुंची तो भीड़ सीधे बैरीकेटिंग की ओर आ गयी और धक्का-मुक्की शुरू हो गयी। वहीं खागा में आयोजित जनसभा में धक्का-मुक्की के दौरान एक उपनिरीक्षक मीडिया कर्मी से उलझ गया और देख लेने की धमकी देने लगा। इस पर उपस्थित पत्रकारों के हस्तक्षेप पर मामला शांत हुआ।

कईयों ने थामा कांग्रेस का हाथ
फतेहपुर। खागा व गाजीपुर में कांग्रेस द्वारा आयोजित चुनावी जनसभाओं में पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी के समक्ष कई लोगों ने अपने पुराने दलों को बाय-बाय करते हुए कांग्रेस का हाथ थाम लिया। खागा में जिला पंचायत सदस्य लालता सिंह चौहान व एसडी शुक्ला ने भाजपा को छोड़कर अपने समर्थकों संग कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। उपस्थित कांग्रेसियों ने उनका फूल-माला पहनाकर स्वागत किया। इसी तरह गाजीपुर कस्बे में पूर्व सांसद एवं पूर्व मंत्री सैय्यद लियाकत हुसैन के भाई सैय्यद शफात अली एडवोकेट ने भी कांग्रेस का हाथ थाम लिया।
@ शीबू खान

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com