Home > India > भ्रष्टाचार, महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

भ्रष्टाचार, महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

Protest Against Corruption Dearness In Fatehpurफतेहपुर- उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में महंगाई, अल्पसंख्यको, दलित उत्पीड़न, सूखा पीड़ित किसानो को राहत में ढ़िलाई, पब्लिक सेक्टर के नौ क्षेत्रो में सौ फीसदी एफडीआई, खाद्य सुरक्षा के कौड़ी में अनियमितता, बलात्कार व किसान आत्महत्या जैसे तमाम सवालों को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के आवाहन पर हजारो की तादात में पार्टी कार्यकर्ता के साथ साथ गरीब, किसान, मजदूरों ने जिला कचहरी में विशाल धरना प्रदर्शन किया।

उत्तर प्रदेश खेत मजदूर यूनियन के प्रांतीय महासचिव फूलचंद्र यादव ने केंद्र व राज्य की सरकारों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि मोदी सरकार व उसके भ्रष्ट मंत्रियो के विनाशकारी नीतियों के कारण आज आम आदमी के सामने घोर संकट पैदा हो गया है | सरकार की सरपरस्ती में महंगाई आसमान को छूने लगी है | साम्प्रदायिकता पूरी तरह से अपने चरम सीमा को पार कर चुकी है | चारो ओर लूट पाट व हा हा कार मची है |

दो साल बीत जाने के बाद भी मोदी सरकार विदेशो में जमा कलाधन अभी तक वापस नहीं ला सकी है तो खाक आम आदमी के खाते में 15 – 15 लाख रुपैय जमा करेगी | बल्कि ऐसा करने के बजाय सरकार की मिली जुली भगत से आज विजय माल्या 17 बैंको से 9 हजार करोड़ रुपैय का घोटाला करके विदेशो में ऐस कर रहा है | मोदी सरकार की इस झूटी नीतियों से जनता जाग चुकी है और अब एक एक पाई का हिसाब आने वाले विधान सभा के चुनाव में लेगी।

वही सरकार ने हर साल 2 करोड़ रोजगार श्रजित करने व किसानो को फसलो की लागत पर 50 लाभ देने का भी वायदा किया था | लेकिन आज तक पूरा नहीं किया | मनरेगा की धन राशि को भी कम कर दिया | गौरक्षा के नाम पर अल्पसंख्यक, दलित, कमजोर वर्गों पर जघन्य अत्याचार किया जा रहा है | लोगो के बीच साम्प्रदायिकता का जहर घोला जा रहा है | सरकार की नीतियों से आम आदमी की थाली से दाल व सब्जियां दूर होती जा रही है।

यादव ने उत्तर प्रदेश में हो रहे अत्याचार, हत्या, अपहरण, लूट, बलात्कार, गरीब किसान, मजदूरो की जमीनों पर अवैध तरीको से कब्ज़ा करना, दलाल, माफियाओ एवं पुलिस की सांठगांठ से कमजोरो पर जुल्म ज्यादती किया जा रहा है | बुलंदशहर में हुए माँ – बेटी के साथ सामूहिक दुराचार जैसी घाटना को प्रदेश सरकार की नाकामी को बताया है | शासन प्रशासन की मदद से गुंडे और माफिया आपराधिक जैसी घटनाओं को बड़ी आसानी से अंजाम देकर फरार हो जाते है और सरकार चुप्पी साधकर तमासा देखने में मशगूल हो जाती है |
रिपोर्ट- @सरवरे आलम




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com