Home > India > नर्मदा किनारे बंद पर गांवो में खुल रही शराब दुकान, किया विरोध

नर्मदा किनारे बंद पर गांवो में खुल रही शराब दुकान, किया विरोध

डिंडोरी : शराब दुकान हटाने के लिए लामबंद हुए ग्रामीण गाड़ा सरई पुलिस थाना से लगभग 200 मीटर दूर मझियाखार रोड गंनागूड़ा में अंग्रेजी शराब दुकान खोली गई है। जिस कारण समस्त गंनागूड़ा के ग्राम वासियों ने आपत्ति जताई है जिसकी शिकायत पुलिस थाना गाड़ासरई में की गई है । ग्राम वासियो का मानना है कि शराब दुकान से कुछ दूर प्राथमिक शाला है जहाँ बच्चे शिक्षा ग्रहण करते है वही शराब दुकान खुल जाने से बच्चों तथा लोगों पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा । माझियाखार रोड में शाम को लोग बैठकर पीते हुए अक्सर देखे जा सकते है है लेकिन शराब दुकान खुल जाने से बैठे हुए शराबियों की संख्या में वृद्धि होगी जिससे अप्रिय घटना घटेंगी किसी भी प्रकार से देखा जाए तो शराब दुकान का गंनागूड़ा में होना उचित नही है। जिस कारण लोगों ने शासन से गुहार लगाई है ताकि शीघ्र अतिशीघ्र दुकान अन्यत्र जनमानस से दूर खोली जानी चाहिए।

ग्रामवासियों ने यह भी चेतावनी दी है कि शराब दुकान अगर नही हटाई जाती तो चक्काजाम आदि किया जा सकता है। गाड़ासरई में सोमवार की रात को 12-30 बजे डायल 100 की मदद से 2 लड़कियों को उनके घर पहुचाया गया सोमवार की रात को पथरकुचा की दो लड़कियां लगभग 15 वर्ष की जो की जबलपुर से लौटी थी गाड़ासरई स्थित लाल चौक पर रात 12,30 पर अकेली बस का इन्तजार करते हुए असहाय खड़ी थी जिनका उनके परिजनों से संपर्क नही हो पा रहा था और गाड़ासरई से 15 किलोमीटर दूर पथरकुचा जाना था लेकिन मामला लड़कियों का था जिस कारण उनके सांथ अनहोनी भी घाट सकती थी तभी 100 डायल में फोन लगाया गया तत्काल पुलिस पहुच गई और उन दोनों लड़कियों को उनके घर पथरकुचा पहुचाया गया वाही लडकिय के सकुशल घर पहुचने पर परिवार वालों ने पुलिस को उनके इस कार्य के लिए धन्यवाद दिया और आभार व्यक्त किया पुलिस की वजह से दो लड़कियां अपने घर सकुशल लौट सकी।

रिपोर्ट @दीपक नामदेव

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com