नई दिल्ली : 31 मार्च 2017 को रिलायंस जियो की मुफ्त सेवाएं खत्म हो रही हैं। इसके बाद ग्राहकों को जियो की सेवाओं का इस्तेमाल करने के लिए पैसे चुकाने होंगे। कंपनी ने करीब महीने भर पहले ग्राहकों की संख्या 10 करोड़ होने के अवसर पर जियो प्राइम का ऐलान किया था। मुकेश अंबानी के अनुसार जियो प्राइम की सदस्यता लेने वालों को बहुत से फायदे मिलेंगे, जबकि जो लोग जियो प्राइम के सदस्य नहीं है, उन्हें कम फायदे मिलेगें। इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक रिलायंस जियो ने दावा किया है कि अब तक करीब 5 करोड़ ग्राहकों ने जियो प्राइम को चुन लिया है।

इस तरह देखा जाए तो कंपनी के आधे ग्राहकों ने जियो प्राइम की सदस्यता ले ली है, जबकि बचे हुए ग्राहकों ने ये सदस्यता नहीं ली है। आपको बता दें कि जियो प्राइम की सदस्यता लेने के लिए 99 रुपए का भुगतान करना होगा, जो एक साल के लिए वैध होगी। वहीं, इसके बाद अगर आप 303 रुपए प्रति महीने रिचार्ज करवाते हैं तो आपको हैप्पी न्यू ईयर के फायदे मिलते रहेंगे। यानी रोजाना के सिर्फ 10 रुपए खर्च करके आपको मौजूदा समय में मिल रहे सभी फायदे साल भर तक (31 मार्च 2018 तक) मिलते रहेंगे। आपको बता दें कि इसके तहत अनलिमिटेड कॉलिंग के अलावा रोजाना 1 जीबी इंटरनेट मुफ्त में दिया जाता है।

जहां एक ओर अभी तक सिर्फ आधे ही ग्राहकों ने जियो प्राइम की सदस्यता ली है, वहीं दूसरी ओर कंपनी के प्रवक्ता ने इसे ग्राहकों की ओर से काफी अच्छा रिस्पॉन्स कहा है। उन्होंने कहा है कि टारगेट से 50 फीसदी अधिक ग्राहकों ने जियो प्राइम की सदस्यता ली है। ऐसे में उन्होंने यह भी संकेत दिया है कि हो सकता है जियो प्राइम की आखिरी तारीख न बढ़ाई जाए। अब देखना ये होगा कि बाकी के ग्राहकों को अपनी ओर खींचने के लिए कंपनी क्या करती है।