hit-and-run case

हिट-ऐंड-रन केस में सलमान खान के ड्राइवर अशोक सिंह के बयान को अभियोजन पक्ष ने सिरे से खारिज कर दिया है। अभियोजन पक्ष ने सलमान के ड्राइवर पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। हिट-ऐंड-रन केस में पब्लिक प्रॉसिक्यूटर प्रदीप घरात ने कहा कि अशोक सिंह ने कोर्ट में झूठा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सलमान अशोक सिहं के जरिए केस में झूठी गवाही पेश करवा रहे हैं। अभियोजन पक्ष ने कहा कि सलमान के वकीलों ने ड्राइवर अशोक सिंह को कोर्ट में झूठे बयान देने के लिए तैयार करवाया।

अभियोजन पक्ष ने पूछा कि सलमान खान का ड्राइवर 12 सालों तक चुप क्यों रहा? इतने सालों में ड्राइवर ने गवाही क्यों नहीं दी? अभियोजन पक्ष ने कहा कि जो आरोपी का लंबे वक्त से वफादार है उसकी गवाही को कबूल नहीं किया जा सकता। 

सलमान खान परिवार में 20 सालों से ड्राइवरी कर रहे अशोक सिंह ने पिछले महीने बयान दिया था कि उस दुर्घटना के लिए वह जिम्मेदार हैं। अभियोजन पक्ष ने कहा कि सलमान के ड्राइवर ने जिस वक्त गुनाह को कबूल किया है वह पूरी तरह से संदेह के घेर में है। अभियोजन पक्ष ने अशोक सिंह के कबूलनामे के वक्त को कटघरे में खड़ा किया। कोर्ट में पहले की सुनवाई में अभियोजन पक्ष ने साफ कहा था कि 2002 में फुटपाथ पर सो रहे लोगों पर कार सलमान ने चढ़ाई थी। इसमें एक आदमी की मौत हो गई थी और चार जख्मी हुए थे।

अभियोजन पक्ष का कहना है कि इस केस की जब सुनवाई शुरू हुई थी तब आरोपी ने कबूल किया था कि गाड़ी उनकी थी और जब हादसा हुआ तब भी कार उनके कब्जे में ही थी। अभियोजन पक्ष का कहना है कि सलमान खान के पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था और उन्होंने ड्राइविंग के दौरान शराब पी रखी थी। हालांकि सलमान खान ने इन दोनों आरोपों को खारिज किया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here