पानी में डूब कर तिरंगे को सलामी दी, जानिए क्या है पूरा मामला - Tez News
Home > India News > पानी में डूब कर तिरंगे को सलामी दी, जानिए क्या है पूरा मामला

पानी में डूब कर तिरंगे को सलामी दी, जानिए क्या है पूरा मामला

जहां पूरा देश अपने 71वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न में डूबा हुआ है वहीं एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। ये तस्वीर असम के ढुबरी जिले की है। ये तस्वीर फेसबुक पर आने के महज तीन घंटों में ही लगभग 20 हजार लोगों द्वारा शेयर की जा चुकी है। इस तस्वीर को मिज़ानुर रहमान नाम के एक सख्स ने 15 अगस्त के मौके पर अपने फेसबुक पेज पर अपलोड किया है।

इस तस्वीर में नजर आ रहा है कि कि चार लोग जो कि पानी में डूबे हुए हैं वो लोग तिरंगे को सलामी दे रहे हैं। इस तस्वीर में दिख रहे 4 लोगों में से दो बच्चे भी हैं। ये दोनों बच्चे लगभग गले तक पानी में डूबे हुए हैं और तिरंगे को सैल्यूट कर रहे हैं।

तस्वीर वहां के एक प्राथमिक स्कूल की है। इस तस्वीर को अपने फेसबुक पेज पर अपलोड करने वाले मिज़ानुर रहमान ने इस फोटो के साथ ही एक पोस्ट भी लिखा है। मिज़ानुर ने लिखा है कि सभी को स्वतंत्रता दिवस की शुभकानाएं। मैं इस स्कूल में टीचर हूं। स्कूल का नाम है नसकारा एलपी स्कूल और ये असम के ढुबरी जिले में है। कहने की जरूरत नहीं है कि हम लोग यहां किस हालात में हैं, तस्वीर सारी कहानी खुद बयां कर रही है।

आपको बता दें कि असम इस वक्त बुरी तरह बाढ़ की चपेट में है। तेज बारिश और बाढ़ की वजह से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं।असम के 15 जिलों के 781 गांवों में बाढ़ से हालात बिगड़ गए हैं। ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। वहां करीब 12 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

पड़ोसी राज्य बिहार में भी बाढ़ से स्थिति भयावह हो गई है। अररिया, सुपौल, किशनगंज, कटिहार, सीतामढ़ी, पूर्वी चम्पारण और पछ्चिमी चंपारण जिलों के करीब दो दर्जन से ज्यादा प्रखंडों में स्थिति भयावह है। अररिया का जोगबनी स्‍टेशन बाढ़ में पूरी तरह डूब चुका है।

इसके अलावा अररिया, किशनगंज, कटिहार और पूर्वी चंपारण में कई जगहों पर रेल ट्रैक पर बाढ़ का पानी बह रहा है। इस वजह से रेल यातायात बाधित हुई है। कटिहार का भी देश के पूर्वोत्‍तर इलाकों से संपर्क कट गया है।

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com