Home > India > मिसाल: कलेक्टर ने 6 साल की बेटी के साथ लाइन में लगकर निकाले पैसे

मिसाल: कलेक्टर ने 6 साल की बेटी के साथ लाइन में लगकर निकाले पैसे

seoni-collector-01सिवनी- नोटबंदी के बाद देशभर में नेताओं के बैंक और एटीएम के बाहर कतार में लगने की खबरों के सुर्खियों में रहने के बीच एक कलेक्टर ने मिसाल पेश की है। यह अफसर भी आम लोगों की तरह स्वेप मशीन से पैसे निकालने के लिए काफी देर तक कतार में खड़े रहकर अपनी बारी आने का इंतजार करते हुए दिखाई दिए। आईएएस अफसर अपनी छह साल की बेटी को लेकर पेट्रोल पंप पर लगी स्वेप मशीन पर पहुंचे और बगैर शोर-शराबे के कतार में सबसे अंत में जाकर खड़े हो गए।

सादगी की यह मिसाल मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के कलेक्टर धनराजू एस ने पेश की हैं। वह सामान्य आदमी की तरह अपने खाते से पैसे निकालने के लिए पहुंचे तो उनकी सादगी ने हर किसी को हैरान कर दिया।

दरअसल, कलेक्टर बंगले से थोड़ी ही दूरी पर स्थित पेट्रोल पंप पर एसबीआई ने स्वेप मशीन लगाई है। यहां से पैसे निकालने के लिए कलेक्टर अपने बंगले से पैदल चलकर पहुंच गए। कलेक्टर ने बकायदा अपनी बारी आने का इंतजार किया और फिर निर्धारित मापदंडों को पूरा करते हुए स्वेप मशीन से कार्ड के जरिए नकद राशि हासिल की।

यह पहला मौका नहीं है कि जब धनराजू एस ने इस तरह सादगी की मिसाल पेश की हो। वह पहले भी कई बार सादगी का परिचय देकर जिले में हर किसी का दिल जीत चुके है।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com