Home > State > Delhi > गौहत्या के विरोध में नहीं थे सावरकर – शरद पवार

गौहत्या के विरोध में नहीं थे सावरकर – शरद पवार

नई दिल्ली : एनसीपी नेता शरद पवार ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि आरएसएस के प्रमुख आइकन में से एक वीर सवारकर ने कहा था कि ‘गायों को किसानों पर बोझ नहीं होना चाहिए। अगर कोई गाय का मांस खाता है तो मैं उसे दोषी नहीं मानूंगा।’

संघ प्रमुख मोहन भागवत पर निशाना साधते हुए एनसीपी नेता शरद पवार ने कहा है कि पूरे देश में गौ हत्या पर प्रतिबंध लगाना सही नहीं है। शरद पवार ने वीर सावरकर का जिक्र करते हुए कहा कि वीर सावरकर गौ हत्या के पक्ष में थे। शरद पवार आत्मकथा ‘अपनी शर्तों पर’ के विमोचन के मौके पर बोल रहे थे। गौरतलब है कि इससे पहले लखनऊ में एक भाषण के दौरान संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था कि पूरे देश में गौ हत्या के खिलाफ कानून बनना चाहिए। उन्होंने कहा था- “”गौ हत्या बंदी सरकार के आधीन है। हमारी इच्छा है कि संपूर्ण भारत में गौ वंथ की हत्या बंद होनी चाहिए।

इस कानून को प्रभावी बनाना सरकार की जिम्मेदारी है।” आपको बता दें कि भागवत का बयान राजस्थान की उस घटना के बाद आया था जब अलवर जिले में कुछ कथित गौर रक्षकों ने एक वयक्ति को पीट पीट कर मार डाला था। भागवत ने बिना इस घटना का जिक्र करते हुए कहा था कि- गौ हत्या के नाम पर किसी भी प्रकार की हिंसा से इस अभियान पर बुरा असर पड़ता है। एजेंसी

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .