Home > India > शोभा डे के घर के बाहर शिवसेना किया प्रदर्शन

शोभा डे के घर के बाहर शिवसेना किया प्रदर्शन

Shiv Sena protests outside Shobha De's houseमुंबई – शिवसेना ने जानी-मानी लेखिका शोभा डे के घर के बाहर गुरुवार को जोरदार प्रदर्शन किया । शिवसेना का कहना है कि शोभा ने मराठी खान-पान और यहां की संस्कृति का मजाक उड़ाया है। प्रदर्शनकारी अपने साथ वड़ा पाव लेकर आए थे। वे शोभा के उन ट्वीट्स का विरोध कर रहे थे, जिसमें उन्होंने मराठी फिल्में दिखाना अनिवार्य किए जाने पर आपत्ति जताई थी।

मल्टिप्लेक्सेज़ में प्राइम टाइम पर मराठी फिल्में दिखाना अनिवार्य किए जाने पर शोभा डे ने महाराष्ट्र सरकार के फैसले के विरोध में ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा था, ‘मैं मराठी फिल्में पसंद करती हूं। मुझे निर्णय करने दीजिए कि मैं कब और कहां उन्हें देखूं, देवेद्र फडणवीस! यह कुछ और नहीं, बल्कि दादागिरी है।’

इसके जवाब में सामना में लिखा गया है, ‘आपने राज्य सरकार के निर्णय को दादागिरी करार दिया है। हम आपको बताना चाहते हैं कि अगर छत्रपति शिवाजी ने अपने समय में और बालासाहब ठाकरे ने ‘दादागिरी’ नहीं की होती, तो आपके पूर्वज और बच्चे पाकिस्तान में पैदा हुए होते। आप पेज-3 पार्टियों में बुर्का पहनकर शामिल होतीं। आपने मराठी भूमि के लिए बड़ी सेवा की है, जिसमें आप पैदा हुईं । महाराष्ट्र के लिए यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस तरह की टिप्पणियां एक मराठी महिला ने कीं।’

मराठी फिल्मों पर सरकार के फैसले पर टिप्पणी करते हुए शोभा ने एक और ट्वीट किया था। इसमें लिखा था, ‘अब मुंबई के मल्टिप्लेक्सेज़ में पॉपकॉर्न नहीं मिलेंगे? सिर्फ दही मिसल और वड़ा पाव मिलेगा। प्राइम टाइम में मराठी मूवीज़ के साथ सही कॉम्बिनेशन होगा।’ शिवसेना ने इसे मराठी संस्कृति का अपमान बताया है। अपने मुखपत्र सामना में शोभा को निशाने पर लेने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके घर के बाहर नारेबाजी भी की।

गुरुवार को शोभा डे के घर के बाहर शिवसेना कार्यकर्ता बड़ी संख्या में जमा हुए। इनमें से कुछ के हाथ में वड़ा पाव था, जिसे वे शोभा डे को देना चाहते थे। नारेबाजी कर रहे लोगों का कहना था कि सरकार के फैसले का विरोध करके और फिर मराठी खान-पान पर टिप्पणी करके शोभा ने मराठी संस्कृति का अपमान किया है।

इस विरोध पर प्रतिक्रिया देते हुए शोभा ने कहा है कि मैंने तो हमेशा मराठी फिल्मों का समर्थन किया है। उन्होंने कहा, ‘शिवसेना मुझे पब्लिसिटी के लिए इस्तेमाल कर रही है। मैंने हमेशा मराठी सिनेमा का समर्थन किया है।’ शोभा ने कहा कि इस विरोध से वह बिल्कुल चिंतित नहीं है और उन्हें मुंबई पुलिस पर पूरा भरोसा है। उन्होंने वड़ा पाव की एक तस्वीर शेयर करते हुए इसे गिफ्ट करने के लिए शिवसेना सा शुक्रिया अदा किया है।

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही महाराष्ट्र सरकार के फैसले पर शोभा के ट्वीट पर आपत्ति जताते हुए शिवसेना ने उनके खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाने की मांग की थी।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com