Home > India News > थाना इंचार्ज को सरेआम मांगनी पड़ी माफी, जाने क्यों

थाना इंचार्ज को सरेआम मांगनी पड़ी माफी, जाने क्यों

परशुराम जयंती के मौके पर सर्व ब्राह्मण समाज की तरफ से जयपुर के गोनेर रोड पर शोभायात्रा निकाली गई थी। मगर रैली के दौरान वहां बवाल मच गया। जिसकी वजह से गुस्साए युवकों ने खोह नागोरियान थाना प्रभारी (एसएचओ) इंद्राज मारोडिया के साथ बदतमीजी की।

बात यहां तक बढ़ गई कि युवकों ने थानाप्रभारी के साथ धक्कामुक्की और मारपीट तक कर दी। बात ज्यादा बढ़ने के बाद मौके पर पुलिस के उच्चाधिकरियों को आना पड़ा। थाना इंचार्ज द्वारा माफी मांगने के बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सुबह 9 बजे शांतिपूर्ण तरीके से रैली खानिया से 52 फीट हनुमान मंदिर तक के लिए निकाली जा रही थी। इसी दौरान हैवंस गार्डन के सामने रैली में शामिल एक शख्स के पास एयरगन दिखाई दी।

रैली में एयरगन लहराते हुए शख्स को थाना इंचार्ज इंद्राज ने रोका और ऐसा ना करने के लिए कहा। जिसके बाद इंचार्ज से रैली में शामिल लोगों की तकरार हो गई। तकरार इतनी बड़ी की नौबत मारपीट तक पहुंच गई। जिसके बाद गुस्साए लोग थाने के मेन गेट के सामने धरने पर बैठ गए।

लोगों का कहना है कि थानाप्रभारी ने परशुराम को लेकर अपशब्द कहे थे। इस वजह से लोग उन्हें हटाने की मांग कर रहे थे। हालांकि थाना प्रभारी ने लोगों से हाथ जोड़कर माफी मांगी। उन्होंने कहा कि यदि मैंने कोई गलत शब्द कहा हो तो मैं सभी लोगों से हाथ जोड़कर माफी मांगता हूं। मेरे मन में कहीं भी यह बात नहीं थी कि मैं किसी व्यक्ति को व्यक्तिगत या धार्मिक रूप से ठेस पहुंचाऊं।

यदि इस दौरान गलतफहमीवश ऐसा लग रहा है कि एसएचओ ने आपको या आपके समुदाय को गलत कहा है तो मैं उसके लिए आपसे माफी चाहता हूं। मगर मैं यह भी जरूर कहना चाहता हूं कि ईमानदारी से अपनी ड्यूटी कर रहे पुलिस अधिकारी को झुकाना नैतिक रूप से सही नहीं है।

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .