लखनऊ– यूपी की राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज के इलाके में एक आतंकी के होने की सूचना पर पहुंची एटीएस टीम व आतंकी के बीच फायरिंग जारी है।
इलाके में फायरिंग से हड़कंप मच गई। मिली जानकारी के अनुसार फायरिंग संदिग्ध की तरफ से की गई।

मामले पर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी का कहना है कि ऑपरेशन जारी है। मिली जानकारी के अनुसार आतंकी के तार मध्य प्रदेश ब्लास्ट से जुड़े हैं। वह आईएसआईएस का आतंकी है और लखनऊ का ही रहने वाला है। आतंकी एक घर में छिपा हुआ है। एटीएस ने उसके कमरे में आंसू गैस के गोले छोड़े। लखनऊ के एयरपोर्ट व रेलवे स्टेशन पर हाई अलर्ट जारी।

मौके पर एडीजी कानून व्यवस्था दलजीत चौधरी मौजूद हैं। डीजीपी जावीद अहमद भी पूरे ऑपरेशन पर नजर रखे हुए हैं। मौके पर भारी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद हैं। एटीएस ने उस मकान को चारों तरफ से घेर लिया है, जिसमें आतंकी छिपा है। आतंकी का नाम सैफुल बताया जा रहा है। आतंकी जेहाद-जेहाद चिल्ला रहा है।

आतंकी ने सरेंडर से किया इंकार
सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि आज सुबह मध्य प्रदेश में ट्रेन में हुए धमाके के बाद दो संदिग्ध गिरफ्तार किए गए थे। इनसे पूछताछ के आधार पर ही पुलिस को लखनऊ और कानपुर में आतंकी के छिपे होने की सूचना मिली। इसके बाद जैसे ही एटीएस की टीम मौके पर पहुंची, आतंकी ने फायरिंग शुरू कर दी। एटीएस की कोशिश है कि आतंकी को जिंदा पकड़ा जाए। वहीं आतंकी ने सरेंडर से इंकार कर दिया है।

जिस इलाके में आतंकी छिपा है, वह एक रिहाइशी इलाका है। शुरुआती जानकारी में सामने आया है कि आतंकी लखनऊ का ही रहने वाला है। एटीएस की टीम लगातार आतंकी को सरेंडर करने के लिए कह रही है। फिलहाल ऑपरेशन जारी है।

[एजेंसी]