Home > Crime > स्कूल में पिटाई के बाद छात्र ने उठाया चौकाने वाला कदम

स्कूल में पिटाई के बाद छात्र ने उठाया चौकाने वाला कदम

अमेठी : यहाँ सर्वोदय साइंंस इंटर कालेज के 10th क्लास के एक स्टूडेंट ने स्कूल मैनेजर की पिटाई से तंग आकर फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। फिलहाल ख़बर पाकर पुलिस मौके पर पहुंची है। वैसे बता दें कि ये उन्हीं स्कूल मैनेजर से जुड़ा मामला है जिन्होंने बीते फरवरी माह में क्लास रूम में एक छात्र की जमकर पिटाई की थी और इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। लेकिन डिस्टिक एडमिस्ट्रेशन ने जानकारी के बाद भी कोई कार्यवाई नहीं की और अब नतीजा सामने है। बड़ा सवाल ये है कि अमेठी का डिस्टिक एडमिस्ट्रेशन क्या अब भी कार्यवाई करेगा या कि अभी और स्टूडेंट की मौत का इन्तेज़ार करेगा? *अमेठी में डिस्टिक एडमिस्ट्रेशन की लापरवाही के चलते फेल होता सीएम का सिस्टम*

यूपी में सीएम योगी प्राइवेट स्कूलों पर शिकंजा कस भले ही बेहतर एजुकेशन सिस्टम की अलख जगा रहे हों लेकिन अमेठी में डिस्टिक एडमिस्ट्रेशन की लापरवाही के चलते ये सिस्टम परवान नहीं चढ़ पा रहा है।
जिले के जामो थाना अन्तर्गत आने वाले सर्वोदय साइंस इंटर कालेज को ही ले लीजिए, जहां स्कूल से किताब न लेने पर स्कूल मैनेजर 10वीं क्लास के स्टूडेंट को परेशान कर रखा था।
बुधवार को तो नौबत ये आ गई कि मैनेजर जग प्रसाद यादव ने स्टूडेंट का बैग स्कूल मे जमा करवा कर उसे जमकर मारा और स्कूल से भगा दिया।

*मैनेजर ने कई दिनों से स्कूल में रखा रख्खा था बैग*
बता दें कि गौरीगंज थाना क्षेत्र के नारायण का पुरवा मंझ्वारा गाँव निवासी संजय मौर्य का 16 वर्षीय पुत्र अंकित मौर्य जामों विकासखंड में संचालित सर्वोदय साइंस कॉलेज का दसवीं का स्टूडेंट था।
स्कूल मैनेजर की आज मार और प्रताडना से तंग आकर वो सीधे घर पहुंचा और सदमें में उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया।
वही छात्र अंकित मौर्या उम्र 16 वर्ष पुत्र संजय मौर्य
जानकारी के अनुसार अंकित यहां कक्षा 9 में पढ़ रहा था और इस बार पास होकर के कक्षा 10 में गया था।
सूत्रों के अनुसार अंकित का बैग
स्कूल मैनेजर ने कई दिनों से स्कूल में रख लिया था।
पिता के यहां मौजूद न होने के कारण अंकित मैनेजर के पास जब अपना बैग मांगने जाता तो मैनेजर उसे डाट कर भगा देते थे।

*मौके पर पहुँची पुलिस*
उधर घटना की जानकारी के बाद गौरीगंज पुलिस फोर्स घटनास्थल पर पहुंची।
पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की प्रक्रिया शुरु करते हुए पंचनामा किया है।

*घर में मचा कोहराम*
घटना के बाबत परिजनों का कहना है कि अकित के सऊदी अरब मे रहते है वो आ जायेगे तो आगे की कार्रवाई करेगे।
जबकि बड़ी घटना के कारण लोगों की बड़ी भीड़ दरवाजे पर जमा हो गई, और घर पर कोहराम मचा हुआ है।
*हाल ही में मैनेजर की स्टूडेंट को पीटते हुए वायरल हुई थी वीडियो*
वीवीआईपी क्षेत्र अमेठी के जामों थानान्तर्गत सर्वोदय साइंस इंटर कॉलेज के मैनेजर का आज ये कोई नया कारनामा नहीं है।
बल्कि बीते 24 फरवरी को इन्हीं मैनेजर द्वारा एक स्टूडेंट को डंडे से पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें इस निर्दयी ने स्टूडेंट को उस वक़्त तक पीटा था जब तक की डंडा टूट नहीं गया था।
यहाँ पर स्टूडेंट का गुनाह ये था कि वो कुछ दिनों से स्कूल नहीं आ रहा था।
इससे पूर्व 16 जुलाई 2015 को भी अपनी इन्हीं करतूतों के कारण प्रबंधक मीडिया की सुर्खियों में रह चुके हैं।

*डीएम का रुख सवालों के घेरे में*
इस सबके बावजूद अमेठी के डीएम योगेश कुमार का कहना है कि आज की घटना की उन्हें जानकारी नहीं है।
जबकि पूर्व की घटना पर प्रशासन द्वारा कार्यवाई न किए जानें पर उन्होंने कहा कि स्टूडेंट के घर वालों ने उनसे कोई शिकायत की ही नहीं, तो ऐसे में हम कार्यवाई कैसे करें?
सवाल ये पैदा होता है कि जब बात सोशल मीडिया और मीडिया में आ गई तो ऐसा कैसे मुमकिन है कि उन तक बात कैसे नहीं पहुँची होगी।
बड़ा सवाल ये कि आखिर क्यों अमेठी का प्रशासन स्कूल मैनेजर को बचाकर स्टूडेंट को जान गवाने की ओर अग्रसारित कर रहा है?

*यहां मांगी गई है आरटीआई*
उधर लोगों ने बताया कि सर्वोदय साइंस कॉलेज के खिलाफ कई आरटीआई जिलाधिकारी अमेठी, मुख्य विकास अधिकारी अमेठी, जिला विद्यालय निरीक्षक अमेठी, खंड शिक्षा अधिकारी जामों के साथ मुख्यमंत्री तक से मांगी गई है।
साथ ही मुख्य सूचना आयुक्त, राज्य सूचना आयोग के यहां सुनवाई भी चल रही है।

@रिपोर्ट – राम मिश्रा

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com