Akhilesh Yadav

 लखनऊ – मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राजधानी में आयोजित एक कार्यक्रम मे भाजपा और कांग्रेस दोनों पर ही एक साथ हमला बोला और कहा इन्हे समाजवादियो से सीखना चाहिए यही नहीं मुख्यमंत्री ने कहा की योग हमारे ऋषियों मुनियो के ज़माने का है, उन्होंने योग को लेकर जबरजस्ती न करने की बात भी कही ।

अंतरष्ट्रीय योग दिवस जिसे 21 जून को मानाने के लिए 163 देश एक साथ मनाने जा रहे है लेकिन वही अभी भी देश में योग को लेकर मचा सिसासी तुफान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है मुस्लिम समुदायों के सूर्य नमस्कार को लेकर विरोध के बाद अब इस क्रम में मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश अखिलेश यादव भी जुड़ गए है,  अखिलेश यादवन ने सबसे पहले बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा की ऋषियों मुनियो के ज़माने से योग चला आ रहा है लेकिन लोग इसे भी नहीं छोड़ रहे है साथ ही यह भी कहा की योग जबदस्ती नहीं होनी चाहिए I 

 मुख्यमंत्री यही नहीं रुके लैंड बिल को लेकर बीजेपी सहित कांग्रेस को भी निशाने पर रख्खा और कहा हमने इतने बड़े आगरा एक्सप्रेस को बगैर किसी विवाद के किसानो से जमीन ले ली लेकिन दो बड़ी पार्टिया इस पर विवाद कर रही है लोग सिर्फ किसानो से जमीन चाहते है I  

हालाकि इस बीच प्रदेश में विकास कार्यो की चर्चा के साथ शिक्षा विभाग द्वारा यूपी में अब तक की सबसे ज्यादा नौकरी देने का विश्व रिकॉड कायम करने की बात कही, उन्होंने कहा की पूरी दुनिया में एक साथ किसी भी प्रदेश या देश ने इतनी सरकारी नौकरी नहीं दी है, हालाकि इस दौरान वह प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल बसपा को भी निशाने पर रखा और कहा की लोगो ने लैपटॉप को झुनझुना कहा वही कूड़े को लेकर बसपा को निशाने पर रखा।  

गौरतलब है मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज नवनियुक्त प्रशिक्षुओं और शिक्षा मित्रों को पहली सैलरी का चेक खुद अपने हाथों से दिए । वही इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा के स्तर सुधार को भी बेहद जरूरी बताया । लेकिन मौका चाहे कोई भी हो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव विपक्षियों पर सियासी वार करना कभी नही भूलते ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here