योगी के मंत्री बोले पूर्वनियोजित थी बुलंदशहर हिंसा, भाजपा और हिंदू संगठनों ने की साजिश

0
38

मऊ: योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा को लेकर योगी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। राजभर ने कहा कि यह घटना पूर्वनियोजित थी। उन्होंने इस घटना में विश्व हिंदू परिषद (विहिप), बजरंग दल और भाजपा के नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा, “घटना में भाजपा के नेता, बजरंग दल और विहिप के लोग पकड़े गए हैं। जिन चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है, उसमें से एक भाजपा नेता भी है”।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष राजभर ने मऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में मीडिया से बातचीत की। राजभर ने मीडिया से वार्ता करते हुए भाजपा पर गंभीर आरोप लगाये है। उन्होंने कहा कि ये लोग वोट बैंक के लिए भावना भड़काने का काम कर रहे हैं। इन लोगों के वीडियो सबके सामने है। उन्होंने कहा, “घटना में भाजपा के नेता, बजरंग दल और विहिप के लोग पकड़े गए हैं, जिन चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है, उसमें से एक भाजपा नेता भी है। मैं मुख्यमंत्री से मिलकर कड़ी कार्रवाई की मांग करूंगा”।

बुलंदशहर जिले के स्याना थाना क्षेत्र के चिंगरावठी गांव में 3 दिसंबर को गोकशी की सूचना पर जमकर बवाल हुआ था। इस दौरान चिंगरावटी गांव में काफी संख्या में हिंदूवादी संगठन और ग्रामीण एकत्र हो गए। गुस्साए लोगों ने चिंगरावटी चौराहे को जाम कर दिया और पुलिस चौकी में खड़े वाहनों में आग लगा दी थी। इस घटना में स्याना इंस्पेक्टर सुबोध कुमार और भाजपा कार्यकर्ता सुमित कुमार की मौत हो गई थी। बता दें कि इस हिंसा में मारे गए यूपी पुलिस के इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी योगेश राज ने भी एक एफआईआर दर्ज कराई है, जिसमें 3 दिसंबर की सुबह गोकशी होते देखे जाने का दावा किया है। हालांकि यूपी पुलिस के आईजी क्राइम एसके भगत ने इस कहानी पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

आपको बता दें कि बुलंदशहर की स्याना कोतवाली में तैनात इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या के मामले में बजरंग दल के नेता योगेश राज को मुख्य आरोपी बनाया गया है, बताया जा रहा है कि उसी ने सबसे पहले गोकशी की शिकायत की थी और उसी ने भीड़ को भड़काने का काम किया। इस बारे में स्याना कोतवाली में उपनिरीक्षक सुभाष सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराई है।