शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने बताया नेपाल सीमा से सटी हुई मस्जिदों और मदरसों पर खास नजर रखी जाए। उन्होंने साफ कहा कि अगर किसी भी मुतवल्ली ने देशद्रोही को छुपाने की कोशिश की तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने प्रदेश के समस्त मुतवल्लियों को निर्देश जारी किया है।

शनिवार को वीडियो जारी करते हुए वसीम रिजवी ने कहा कि किसी भी तबलीगी जमात को मस्जिदों या मदरसों में जगह नहीं देंगे।

उन्होंने कहा कि अगर कोई मुसलमान बताकर मस्जिद या मदरसे में रुकना चाहे तो फौरन पुलिस और शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड की हेल्पलाइन को सूचित करें।

वसीम रिजवी ने बताया नेपाल सीमा से सटी हुई मस्जिदों और मदरसों पर खास नजर रखी जाए। उन्होंने साफ कहा कि अगर किसी भी मुतवल्ली ने देशद्रोही को छुपाने की कोशिश की तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

वहीं सरकार से उसके खिलाफ एनएसए लगाने की सिफारिश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड करेगा।

इससे पहले वसीम रिज़वी ने कोरोना वायरस से होने वाली मौतों को लेकर एक और बड़ा बयान दिया था।

वसीम रिज़वी ने केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिख कर मांग की है कि देश के बड़े डॉक्टरों से सलाह लेकर कोरोना वायरस से मरने वाले व्यक्तियों का अंतिम संस्कार जलाकर किया जाए।

उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 21 नए मामले सामने आए हैं। इससे संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 431 हो गए हैं। कुल संख्या में से 32 संक्रमित लोग ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, जबकि चार संक्रमितों की मृत्यु हो चुकी है।

वहीं, 8671 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है और 459 अन्य लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया हैं। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।