Home > India > जिसने श्मशान-कब्रिस्तान बांटा, उनसे क्या उम्मीद करें

जिसने श्मशान-कब्रिस्तान बांटा, उनसे क्या उम्मीद करें

सहारनपुर हिंसा मामले को लेकर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि बीते विधानसभा चुनावों के दौरान दिवाली और रमज़ान, श्मशान और कब्रिस्तान को बांटने वाली पार्टी राज्य में हिंसात्मक घटनाएं बढ़ने के लिए जिम्मेदार है।

पूर्व सीएम ने आगे बताया कि आप भाजपा से क्या उम्मीद कर सकते हैं ? जिन्होंने उत्तर प्रदेश में चुनावी अभियान के दौरान भारतीय त्यौहारों (दिवाली और रमजान), बिजली, श्मशान और कब्रिस्तान को बांट दिया, हम उनसे क्या उम्मीद करें। सांप्रदायिक हिंसा के लिए यही पार्टी जिम्मेदार है। हमारी पार्टी हर प्रभावित इलाके में गई। हमारी सरकार के दौरान लोगों को हर किस्म की सुविधाएं दी गईं।

सहारनपुर में दो समुदायों के बीच हुई भिड़ंत और हिंसा के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को 174 अधिकारियों का तबादला किया था। गृह मंत्रालय ने भी उत्तर प्रदेश सरकार को सहारनपुर में हुई इस हिंसा से जुड़ी रिपोर्ट जमा करने के लिए कहा था।

इससे पहले सहारनपुर में दोनों समुदायों के बीच हुई हिंसा को काबू न कर पाने के लिए यहां के जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह को हटा दिया गया था। मंगलवार को हुई हिंसा में एक शख्स की मौत हो गई थी। जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। बसपा सुप्रीमो मायावती भी सहारनपुर पहुंची थीं।

@एजेंसी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com