demo pic
demo pic

खंडवा – पानी के निजीकरण के खिलाफ आंदोलनों एवं प्रदेश स्तरीय बैठकों में नागरिकों को जागरूक करने के लिए कई विद्वान अपने उद्बोधन में आगाह करते हैं कि जागो, नहीं तो एक दिन सरकारें हवा भी बेचने लगेंगी।

शासन ने तो खैर अभी इस तरह का कोई प्रस्ताव नहीं लिया है, लेकिन नगर के एक शॉपिंग काम्पलेक्स मालिक ने लगभग 7 लाख रूपए में 80 क्यू. मीटर हवा बेच दी। उक्त जानकारी देते हुए समाजसेवी मनोहर शामनानी ने बताया कि इसका खुलासा एक सप्ताह पूर्व ही हुआ है। हुआ यूं कि रामगंज क्षेत्र के एक शॉपिंग काम्पलेक्स में एक व्यवसायी ने एक दुकान लगभग 7 लाख रूपए में खरीदी थी। बिक्री पत्र संपादित करते समय काम्पलेक्स मालिक ने इस दौरान एक शर्त जोड़ दी, कि इस दुकान की पुन: बिक्री पर उससे पूछा जाएगा, उससे स्वीकृति ली जाएगी।

लगभग एक सप्ताह पूर्व व्यवसायी को पैसे की आवश्यकता होने पर इस दुकान को बेचने का विचार किया, इसकी जानकारी जब शॉपिंग काम्पलेक्स मालिक को दी, तो उसने आपत्ति उठाते हुए स्पष्ट किया कि उसके द्वारा दुकान नहीं बेची गई है। उसने तो शटर मात्र एवं हवा बेची है। दीवालों एवं छत पर उसका कोई अधिकार नहीं है। अत: वह दुकान नहीं बेच सकता।

श्री शामनानी ने कहा कि दुकानों की बढ़ती कीमतों से शॉपिंग काम्पलेक्स मालिक की नीयत खराब हो चुकी है। बिक्री के बरसों बाद वह कुछ राशि चाहता है। ऐसे हवा बेचने वालों के अनुमति विपरीत निर्मित शॉपिंग काम्पलेक्स के दस्तावेज, सूचना अधिकार तहत जुटाकर अवैध निर्माण तुड़वाने की कार्यवाही की जाएगी ताकि हवा बेचने वाले, हवा में उडऩे वाले शॉपिंग काम्पलेक्स मालिक जमीन पर आ सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here