Home > Crime > डायन बताकर महिला को पीटा, मल खिलाया, अंगारों पर लिटाया

डायन बताकर महिला को पीटा, मल खिलाया, अंगारों पर लिटाया

राजस्थान में एक दलित महिला की कथित तौर पर डायन बताकर उसकी नृशंस हत्या कर दी गई है। वारदात अजमेर जिले की है जहां पर महिला के रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने मिलकर कन्या देवी को मार दाला। 40 वर्षीय कन्या देवी को कथित रूप से कोड़े मारे गए, जबरन मल-मूत्र खिलाया और अंगारों के बिस्तर पर भी लिटाया गया।

आखिर में महिला की दोनों आंखे भी अंगारों से फोड़कर उन्हें अंधा कर दिया। पुलिस के मुताबिक 2 अगस्त की रात को कन्या देवी अपने 15 वर्षीय बेटे कालू के साथ सो रही थी। रात के लगभग 11 बजे महिला पर उनके रिश्तेदारों ने हमला कर दिया।

वारदात अजमेर जिले के कडेरा गांव की है। वहीं इस मामले में गांव की एक पंचायत ने अरोपियों को अपराध मुक्त होने के लिए उनसे पुष्कर झील में पवित्र स्नान करने और गायों के लिए चारा दान करने को कहा।

अजमेर पुलिस के एसपी राजेंद्र सिंह ने कहा, “महिला को बहुत बरी तरह प्रताड़ित किया गया था। आरोपियों ने महिला को जलाने, मारने, मल खिलाने की बात को कुबूल लिया है। मामले में 6 आरोपी हैं जिनमें से 5 के खिलाफ हत्या और राजस्थान डायन प्रताड़ना निवारम ऐक्ट, 2015(Rajasthan Prevention of Witch Hunting Act) के तहत मामला दर्ज किया गया है।”

आरोपियों में कन्या देवी की भतिजी पिंकी, भतीजा महावीर और पड़ोसी सोनिया का भी नाम है। कार्यकर्ता तारा आहलूवालिया ने कहा, “आरोपियों ने बताया कि कन्या देवी को भैरो बाबा ने डायन बताकर उसे पीटने के लिए कहा था।”

आहलूवालिया ने यह भी कहा कि इस मामले में हत्या की वजह संपत्ति विवाद हो सकता है क्योंकि हाली ही में कन्या देवी के पति की मृत्यु हो गई थी और उसके रिश्तेदारों ने उसकी जमीन कब्जाने के लिए उसकी डायन बताकर हत्या कर दी।

8 अगस्त को पुलिस ने कन्या देवी की 23 वर्षीय बेटी माया देवी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की। एफआईआर आईपीसी की धारा 302, 201 और राजस्थान डायन प्रताड़ना निवारम ऐक्ट, 2015 की धारा 3, 4 और 7 के तहत दर्ज की गई है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com