Home > India News > …तो यूपी रेगिस्तान बन जाएगा : योगी आदित्य नाथ

…तो यूपी रेगिस्तान बन जाएगा : योगी आदित्य नाथ

वाराणसी : मुख्यमंत्री बनाने के बाद सी एम योगी का प्रथम आगमन मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस मे हुआ ।जिसमे कल से आये सी एम योगी ने विकास कार्यो की समीक्षा और सभी वर्गो से संपर्क किया और साथ सर्किट हॉउस मे भोजन भी किया । काशी विश्वनाथ बाबा कालभैरव के दर्शन और साधु संतो के साथ बैठक के साथ साथ कई छोटे बड़े धार्मिक स्थालो का भी दर्शन किया और विकास कार्य स्थल पर जाकर जायज़ा भी लिया । पत्रकारो को संबोधित करते हुए और अधिकारियो को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि अगर यूपी में गंगा और यमुना स्वच्छ नहीं होंगी। इनकी रक्षा नहीं होगी तो यूपी रेगिस्तान बन जाएगा। उन्होंने कहा कि गंगा, यमुना सहित अन्य सभी नदियों की स्वच्छता केवल सरकार के सहारे संभव नहीं है। इसके लिए सामूहिक सहभागिता की जरूरत है। सीएम शनिवार को बीएचयू के स्वतंत्रता भवन में पूर्वांचल के ग्राम प्रधानों को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने ग्राम प्रधानों को गंगा सफाई की शपथ भी दिलाई।

स्वच्छ गंगा सम्मेलन में सीएम योगी ने कहा, गंगा हम सब की मां हैं। ये सनातन संस्कृति की प्रतीक हैं। राज्यों के असहयोग से गंगा में प्रदूषण बढ़ा है। राज्यों की सहमति न बन पाने के कारण गंगा स्वच्छ नहीं हो पाई हैं। अब गंगा की स्वच्छता के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गंगा स्वच्छता अभियान चलाया है। लेकिन गंगा की सफाई में हम सब की सहभागिता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गंगा मईया के कारण उत्तर प्रदेश का देश, दुनिया में महत्व है। गंगा मईया को बचाने के लिए हमें प्रयास करना होंगा। लेकिन केवल सरकार के भरोसे गंगा की स्वच्छ संभव नहीं। गंगा के लिए लोगों को जागरुक करना होगा।

बताया कि गंगा किनारे के 1627 गांवों में शौचालय बनाए गए है। खुले में शौच के कारण वायरस से बच्चों की मौत होती है। इंसेफ्लाइटिस का मुख्य कारण भी गंदगी है। सीएम योगी ने कहा गंगा मईया की स्वच्छता के लिए और शौचालय बनवाएं। उत्तर प्रदेश को खुले में शौच से मुक्त करने का काम करेंगे। कहा कि गांव में जा कर देखें गांव कितने गंदे हैं। हम लोगों ने गांवों को गंदा करके रख दिया है। गांव का नजारा देखकर सिर शर्म से झुक जाता है। हमें इस सोच को बदलकर दिखाना है। स्वच्छता की उपलब्धियां हमारी पहचान होनी चाहिए। कोशिश हो कि गांवों में लोग शौचालयों का उपयोग करें।

गांव की कोई भी गंदी नाली गंगा जी में न गिरे। यही नहीं किसी भी गांव-शहर का गंदा पानी नदियों में न गिरे। कारखानों का गंदा कचरा भी गंगा में न जाने पाए। इसके लिए हम लोगों को खुद कुछ प्रयास करने होंगे। यहां तक कि पूजा की सामाग्री को भी हम लोग नदियों में फेंकते हैं ऐसा नहीं होना चाहिए। इसकी जगह नदियों के किनारे कुंड बनाकर पूजा सामग्री उसमें डाली जाए। नदियों में कोई भी ऐसी सामाग्री न डाले जिससे वो प्रदूषित हों।

गरीब को वस्त्र दान करें नदियों में न डालें, पैसा भी किसी गरीब को दें,गंगा या अन्य नदियों में न डालें। आगरा,दिल्ली,मथुरा में यमुना बहुत गंदगी हैं। गंगा,यमुना पर संकट आएगा तो उत्तर प्रदेश रेगिस्तान हो जाएगा। उत्तर प्रदेश में पूरी दुनिया का पेट भरने की क्षमता है। सघन स्तर पर नदियों के तटों पर पौधरोपण किया जाए। आज pmo कार्यालय मे वाराणसी के भाजपा मंडल अध्यक्षो के साथ बैठक की और जनसमस्याओं और विकास कार्यो के प्रति जागरूक रहने को कहा ।मंडुआडीह आर ओ बी सहित चौतरफा बन रहे रिंग रोड एवम् सभी निर्माणाधीन फ्लाई ओवर का निरक्षण भी किया और जल्द पूरा करने का निर्देश दिया।

पूरे दौरे मे योगी के साथ जिला प्रभारी कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी सहित प्रदेश सह प्रभारी भाजपा सुनील ओझा की विशेष उपस्थिति रही ।
रिपोर्ट @चाणक्य त्रिपाठी

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .