Bank of Maharashtra has rewarded the blind girlनई दिल्ली – बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक एस. मुहनोत, कार्यपालक निदेशक आर. आत्माराम ने दी पूना स्कूल एंड होम फॉर द ब्लाइंड ट्रस्ट, पुणे को लॉकर केबिनेट और स्कूल की नेत्रहीन बालिकाओं को घड़ियां प्रदान कर पुरस्कृत किया।

बैंक के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक एस. मुहनोत ने कहा कि “अगर आप सकारात्मक विचार रखते हैं और आपमें आत्मविश्वास है तो कोई भी लक्ष्य आपसे दूर नहीं। ये नेत्रहीन बच्चियां इसी का उदाहरण है, उन्होंने विपरीत परिस्थितियों पर मात करते हुए जो उपलब्धि हासिल की वो काबिले तारीफ है।“

कार्यपालक निदेशक आर. आत्माराम ने बताया कि “यह एक स्त्री की विचारशक्ति ही है जिसकी सोच केवल अपने तक सीमित न रहकर अपने परिवार और समाज को भी अपने विचारों में समाहित कर लेती है।“

बैंक के प्रधान कार्यालय लोकमंगल में यह कार्यक्रम बैंक ऑफ महाराष्ट्र की महिला कर्मचारियों के फोरम “स्वशक्ति” की ओर से आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में बैंक के सभी महाप्रबंधकगणों ने सफाईकर्मियों के लगभग 40 बच्चों को शालेय वस्तुओं का भी वितरण किया।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र सामाजिक सहकार्यों में सदैव अग्रणी रहा है, यह कार्यक्रम भी उसका ही एक भाग था। इस कार्यक्रम में अंध शाला की संचालिका श्रीमती अर्चना सरनौबत ने बैंक ऑफ महाराष्ट्र के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया।

इस अवसर पर उप महाप्रबंधक श्रीमती नलिनी श्रीरामन, “स्वशक्ति” की अध्यक्षा व सहायक महाप्रबंधक श्रीमती सुखिता भावे व सहायक महाप्रबंधक श्रीमती वाल्सा जोसेफ और लोकमंगल की सभी महिला कर्मचारी उपस्थित थीं। कार्यक्रम का सूत्रसंचालन लोकप्रभा वाघे ने किया।

रिपोर्ट :- शीबू खान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here