Home > Careers > प्रदेश के पहले मेडिकल कालेज को मिली एमसीआई की मान्यता

प्रदेश के पहले मेडिकल कालेज को मिली एमसीआई की मान्यता

खंडवा: चिकित्सा के क्षेत्र में खंडवा का नाम अब ऊंचाईयों को छूएगा। मेडिकल कालेज को सोमवार के दिन एक बड़ी सौगात के रूप में एनसीआई से मान्यता प्राप्त हो चुकी है। अब शीघ्र मेडिकल कालेज का लोकार्पण होगा और यह अपने अस्तित्व में आ जाएगा। दादाजी की नगरी खंडवा के लिए हर्ष का विषय है कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष व सांसद नंदकुमार के साथ ही अन्य जनप्रतिनिधियों की मांग पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने चिकित्सा क्षेत्र में एक अभूतपूर्व मेडिकल कालेज की सौगात दी।

मीडिया प्रभारी सुनील जैन ने बताया कि मेडिकल कालेज बनने के पश्चात इसे एमसीआई से मान्यता मिलने को लेकर काफी अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन ठेकेदार एवं मेडिकल कालेज से जुड़े अधिकारियों ने इस वर्ष ही इसे शुरू करने के प्रयास किए। साथ ही सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने मेडिकल कालेज इसी वर्ष शुरू हो इसके लिए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से लगातार संपर्क कर मेडिकल कालेज की मान्यता को लेकर सफलता प्राप्त की। विगत दो माह से सांसद श्री चौहान लगातार मंत्री एवं अधिकारियों से संपर्क में थे। मेडिकल कालेज के शुरू हो जाने के पश्चात हर बीमारियों का इलाज खंडवा में होने लगा और पीडि़त व गंभीर बिमारियों के मरीजों को अब इंदौर व मुंबई नहीं जाना पड़ेगा, सभी प्रकार की बिमारियों का इलाज खंडवा में होने लगेगा।

मेडिकल कॉलेज के केम्पस निर्माण के लिए प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कुल 109.39 करोड़ रूपये स्वीकृत किए है तथा हॉस्पीटल केम्पस के निर्माण के लिए 62.82 करोड़ रूपये स्वीकृत किए गए है। इस तरह कुल 172.22 करोड़ रूपये की सौगात जिले को मिली है। कॉलेज केम्पस का भवन 5 मंजिला है। इसके अलावा कॉलेज के अधिष्ठाता का निवास, अधीक्षक निवास, प्रोफेसर के लिए निवास, गैर शिक्षकीय स्टाफ का निवास, तृतीय व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के लिए निवास, विश्राम गृह स्पोटर्स काम्पलेक्स, छात्र व छात्राओं के लिए अलग-अलग हॉस्टल निर्माण भी इस केम्पस में निर्मित किए गए हैं।

हास्पिटल केम्पस के लिए 360 बिस्तरीय अस्पताल, 7 ऑपरेशन थियेटर, ब्लड बैंक, पैथोलॉजी लैब, वर्तमान अस्पताल भवन के ऊपर नवीन वार्डो का निर्माण किया गया है। साथ ही जूनियर रेसीडेन्स व सीनियर रेसीडेन्स का निर्माण भी किया गया है। खण्डवा जिला चिकित्सालय परिसर में जी.एन.एम. टे्रनिंग सेंटर का भी निर्माण लगभग 4 करोड़ रूपये लागत से किया जा रहा है। सुनील जैन ने बताया कि मेडिकल कालेज का भूमि पूजन 5 दिसंबर को स्वास्थ्य मंत्री शरद जैन एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमारसिंह चौहान के साथ ही जिले के जनप्रतिनिधियों द्वारा किया गया था। प्रदेश का यह पहला मेडिकल कालेज होगा जिसका तेजी से निर्माण कार्य होकर समय सीमा में पूर्ण हुआ। संबंधित ठेकेदार के सैकड़ों श्रमिक मेडिकल कालेज को सजाने में दिनरात लगे रहें।

सांसद श्री चौहान के प्रयासों से मेडिकल कालेज को मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया की टीम द्वारा मान्यता मिल चुकी है अब शीघ्र ही प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड््डा, सांसद नंदकुमारसिंह चौहान व जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में इसका लोकार्पण किया जाएगा।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .