Home > India > ईसाई और मुस्लिम चुपचाप कर रहे धर्मांतरण : शिवसेना

ईसाई और मुस्लिम चुपचाप कर रहे धर्मांतरण : शिवसेना

Shiv Sena

मुंबई [ TNN ] शिवसेना ने गरीबी और शिक्षा के अभाव को धर्मांतरण के लिए औजार के तौर पर इस्तेमाल किए जाने का जिक्र करते हुए धर्मांतरण को रोकने के लिए एक मजबूत कानून की आज हिमायत की। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में छपे एक संपादकीय में कहा गया है, ‘‘जो काम (धर्मांतरण) हिंदू संगठन खुले आम कर रहे हैं, उसे ईसाई मिशनरी और मुस्लिम विद्वान चुपचाप कर रहे हैं।’’ इसने कहा है, ‘‘यदि ऐसा नहीं है तो, लाखों आदिवासियों और गरीब तबके के लोगों का धर्म नहीं बदला होता।’’

शिवसेना ने कहा, ‘‘कौन सा कानून गरीबी और शिक्षा के अभाव को धर्मांतरण की वजह के तौर पर इस्तेमाल करने की इजाजत देता है? इसी कारण धर्मांतरण रोधी एक मजबूत कानून का स्वागत करना जरूरी है जो इसे होने से रोक सके।’’ पार्टी ने कहा, ‘‘आगरा में जब मुसलमानों का धर्मांतरण कराया गया तो आग लग गई, लेकिन जब उसी शहर में हिंदुओं को ईसाई बनाया गया, तो एक चिंगारी तक नहीं उठी। भविष्य में हिंदुओं का शमन करके राजनीति नहीं हो सकती।’’ इसने कहा है कि गरीब, बीमार और असहाय महिलाओं को जुगत से ईसाई बनाए जाने के ढेरों उदाहरण हैं।

संपादकीय में कहा गया है, ‘‘रोटी, कपड़ा और मकान हर किसी के लिए बुनियादी आवश्यकताएं हैं, उसी तरह से स्वास्थ्य और शिक्षा की जरूरत है। यह नेताओं का कर्तव्य है कि वे आम आदमी की जरूरतें पूरी करें।’’ शिवसेना ने कहा, ‘‘इन जरूरतों के पूरा नहीं होने पर लोगों को अपना धर्म बदलने के लिए प्रलोभन दिया जाता है। क्या तथाकथित धर्मनिरपेक्षतावादी ऐसे लोगों का समर्थन करेंगे | -एजेंसी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com