असंसदीय शब्द ' गोडसे ' ,लगाया गया प्रतिबंध - Tez News
Home > State > Delhi > असंसदीय शब्द ‘ गोडसे ‘ ,लगाया गया प्रतिबंध

असंसदीय शब्द ‘ गोडसे ‘ ,लगाया गया प्रतिबंध

parliament of indiaनई दिल्ली [ TNN ] ‘ गोडसे ‘ शब्द को रावण और हिटलर की तरह एक असंसदीय शब्द माना गया है। अब देश की संसद के किसी भी सदन में गोडसे शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। यहां तक की सदन के भीतर किसी को गोडसे का उदाहरण या गोडसे से नहीं जोड़ा जा सकेगा।

एक टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार, संसद की नियम पुस्तिका में एक नया नियम जोड़कर गोडसे शब्द को असंसदीय माना गया है। गौरतलब है कि यह नियम भाजपा सांसद साक्षी महाराज की ओर से हाल ही में नाथूराम गोडसे को एक देशभक्त बताने वाले बयान के बाद लागू किया गया है। हलांकि साक्षी महाराज ने बाद में इस पर माफी भी मांगी थी।

राज्यसभा में गोडसे शब्द असंसदीय मानने का मामला तब प्रकाश में आया जब सीपीआई एम के सांसद पी रजीव का बहस के दौरान दिए बयानों से गोडसे शब्द को राज्यसभा के रिकॉर्ड से हटा दिया गया। इतना ही नहीं उन्होंने कुछ हिंदू संगठनों की ओर से दिए बयानों पर प्रधानमंत्री सफाई मांगी तो उससे भी गोडसे शब्द हटा दिया गया।

सीपीआई सांसद पी राजीव ने प्रधानमंत्री से कुछ हिंदू संगठनों की ओर गोडसे का सम्मान करने पर सफाई मांगी तो उसमें भी दो बार गोडसे शब्द का इस्तेमाल किया। कार्यवाही के बाद जब अपने बयानों को देखा तो राजीव ने पाया कि यहां से भी गोडसे शब्द हटा दिया गया है।

इसके बाद उन्होंने राज्यसभा में सवाल उठाया कि उनके बयान से गोडसे शब्द बार-बार हटाया जा रहा है तो क्या गोडसे शब्द का इस्तेमाल करना असंसदीय है? अगर यह असंसदीय है तो इसके इस्तेमाल पर ही प्रतिबंध लगाना चाहिए।

गौरतलब यह भी है इससे पहले ईमानदारी शब्द भी संसद में ब्लैकलिस्ट हुआ था कयोंकि सरकार में बैठे कुछ सदस्यों ने विपक्ष के लोगों को संबोधन के‌ लिए ईमानदार शब्द का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया था।

संसद में जिन शब्दों के इस्तेमाल में बैन लगा है उनकी लिस्ट काफी लंबी है। लेनिक यहां कुछ खास शब्द दिए जा रहे हैं जो संसद में ब्लैक‌ लिस्टेड हैं-

जोकर, झूठा, षड़यंत्र, झूठ, धोखेबाज, कुतर्क, मजाकिया, मानसिक, विदेशी धन, मजाक, शर्म, दांत निकालना (मंद मंद हंसना), हिटलर, मुसोलनी, आदि आमीन, रावण, बुरा, रंग बदलना आदि।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com