चोरी गए मोबाइल के लिए क्राइम ब्रांच ला रहा सॉफ्टवेयर - Tez News
Home > Crime > चोरी गए मोबाइल के लिए क्राइम ब्रांच ला रहा सॉफ्टवेयर

चोरी गए मोबाइल के लिए क्राइम ब्रांच ला रहा सॉफ्टवेयर

Mobile talk

इंदौर – क्राइम ब्रांच की सेल ट्रैक यूनिट को दो साल में मोबाइल चोरी होने की 10 हजार शिकायतें मिलीं, लेकिन पुलिस इनमें से 10 प्रतिशत भी ढूंढ नहीं पाई। करीब 800 मोबाइल ही ढूंढे जा सके। ज्यादा मोबाइल खोजने और यह प्रक्रिया आसान करने के लिए अब नया सॉफ्टेवयर बनाया जा रहा है। इस काम के लिए अलग सेल बनाने की भी योजना है।

पुलिस ने मोबाइल गुम होने की शिकायत सिटीजन कॉप एंड्राइड एप्लीकेशन में दर्ज करने की व्यवस्था पिछले महीने शुरू की थी। अब तक 102 मोबाइल चोरी या गुमने की शिकायत दर्ज हुई है।

सेल ट्रैक यूनिट में 2013 और 2014 में 10 हजार मोबाइल चोरी होने की शिकायतें की गईं। थानों में जो शिकायतें हुईं, उनका तो रिकॉर्ड ही नहीं है। थाने वाले मोबाइल चोरी की रिपोर्ट लिखने के बजाय गुम होने का आवेदन लेते हैं। इसका रिकॉर्ड मेंटेन नहीं होता।

इंदौर के आईजी विपिन माहेश्वरी ने कहा कि मोबाइल संबंधी मामलों के लिए पर्याप्त स्टाफ नहीं है। सिटीजन कॉप के जरिए आने वाली शिकायतों से डाटाबेस बनाया जा रहा है। सॉफ्टवेयर से काम आसान होगा। अलग सेल बनाई जाएगी।

 ऐसे मिलेगा फोन

मोबाइल में सिक्युरिटी सेटिंग में सेल ट्रैकिंग नाम से विकल्प होता है। इसे पासवर्ड से सुरक्षित कर दूसरे नंबर फीड किए जा सकते हैं। मोबाइल में दूसरी सिम लगेगी तो फीड नंबरों पर मैसेज चला जाएगा और आप मोबाइल ट्रैक कर सकेंगे।

आई-फोन में आई क्वाउड नाम से ऑप्शन होता है। इसमें फाइंड माय मोबाइल को हमेशा ऑन रखें। जीपीएस भी चालू रखें। इससे मोबाइल की सटीक लोकेशन मिल सकती है। नए सॉफ्टवेयर में यह व्यवस्था होगी कि सिटीजन कॉप से शिकायत आने पर मोबाइल का आईएमईआई नंबर मोबाइल कंपनी को ई-मेल हो जाएगा। कंपनी उसे ट्रेसिंग पर डाल सकेगी। दूसरी सिम लगने पर क्राइम ब्रांच को पता चलेगा। – TNN -ब्यूरो

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com