Home > India News > अपनाएं शहनाज के आसान टिप्स और दीवाली में निखारें चेहरे की रंगत

अपनाएं शहनाज के आसान टिप्स और दीवाली में निखारें चेहरे की रंगत

दीवाली में आप दमकना चाहती हैं, लेकिन त्योहार से पहले घर की सफाई, सजावट, लाइटिंग और भीड़ भरे बाजार में शॉपिंग की वजह से आपके चेहरे पर स्वाभाविक थकान आ जाती है। ऐसे में घरेलू आर्गेनिक नुस्खे अपनाकर आप चेहरे की रंगत निखार सकती हैं। यह कहना है सौंदर्य विशेषज्ञ शहनाज हुसैन का। शहनाज के घरेलू आर्गेनिक नुस्खे अपनाकर आप त्योहार में न केवल अपनी रंगत निखारकर दीयों के इस उत्सव की आभा बढ़ा सकती हैं, बल्कि आपके चेहरे का आकर्षण त्योहार में चार चांद लगा सकता है।

दीवाली आने के साथ ही मौसम भी करवट लेता है। इस मौसम में ठंडक बढ़ जाने से दिनों दिन वातावरण में आद्र्रता की कमी आनी शुरू हो जाती है, जिससे होंठ, चेहरे, त्वचा और बालों पर ठंडक की मार साफ झलकने लगती है।

पर्वतीय क्षेत्रों में मौसम की पहली बर्फबारी के साथ ही त्वचा का प्राकृतिक संतुलन बिगड़ जाता है तथा त्वचा में रूखापन आने के साथ ही त्वचा में चकते, फोड़े, फुंसिया, मुंहासे पैदा हो जाते हैं और बाल रूखे-सूखे होकर बेजान व निर्जीव लगने लगते हैं।

अंर्तराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शहनाज हुसैन ने कहा कि त्वचा में नमी बनाए रखने के लिए सूखी त्वचा को जैल के साथ दिन में दो बार साफ करना चाहिए। क्लींजर से त्वचा की हल्के तरीके से मालिश कीजिए और विषैले एवं गंदे पदार्थो को गीले कॉटन वूल से हटा दीजिए। इसके बाद त्वचा पर कॉटनवूल की मदद से गुलाब जल तथा त्वचा टॉनिक का प्रयोग कीजिए।

उन्होंने कहा कि रात में सभी प्रकार के सौंदर्य प्रसाधन शरीर से हटा देने चाहिए, क्योंकि इनसे त्वचा में रूखापन आ जाता है तथा त्वचा का प्राकृतिक अम्लीय-क्षारीय संतुलन भी बिगड़ जाता है, जिससे त्वचा में चकते, मुंहासे, पफोड़े, फुंसियां पैदा हो जाती हैं।

हर्बल क्वीन ने कहा, “दिन में घर से बाहर निकलने से पहले त्वचा पर सनस्क्रीन का उपयोग कीजिए और यदि आप घर के अंदर रह रही हैं तो त्वचा पर मॉइस्चराइजर का उपयोग कीजिए। रूखी त्वचा के लिए रात्रि में क्लींजिंग के बाद नरीशिंग/पोषक लगाकर इसे पूरे चेहरे पर मल लीजिए और बाद में कॉटनवूल की मदद से इसे साफ कर लीजिए। इसके बाद त्वचा पर सीरम लगा लीजिए. तैलीय त्वचा को भी मॉइस्चराइजर की जरूरत होती है। अगर तैलीय त्वचा पर क्रीम लगाई जाए, तो कील-मुंहासे उभर आते हैं।”

उन्होंने कहा, “तैलीय त्वचा में नमी प्रदान करने के लिए एक चम्मच शुद्ध ग्लीसरीन में 100 मिली लीटर गुलाब जल मिलाएं। इस मिश्रण को फ्रिज में एयरटाइट जार में रखें। इस मिश्रण को क्लींजिंग के बाद उपयोग कीजिए। इससे त्वचा में तैलीयपन की बजाय नमी का प्रभाव आता है। त्वचा को साफ करने के लिए दूध या फेसवॉश का उपयोग करें।”

शहनाज ने कहा कि फेसियल स्क्रब से चेहरे की त्वचा में लालिमा तथा चमक आती है। हफ्ते में दो बार फेसिअल स्क्रब का उपयोग करना चाहिए। दिन में घर में बाहर निकलने से पहले त्वचा पर सनस्क्रीन जरूर लगा लीजिए। दिन में क्रीम लगाइए, पोषाहार लीजिए और रात में भी क्रीम व सीरम का उपयोग करना चाहिए।

उन्होंने कहा, “शरद ऋतु में त्वचा को रूखेपन से छुटाकारा पाने के लिए प्रतिदिन चेहरे पर 10 मिनट तक शहद लगाइए तथा बाद में इसे ताजा स्वच्छ जल से धो डालिए। यदि आप के आंगन में घृतकुमारी या एलोवेरा का पौध लगा है, तो इसके आंतरिक हिस्से की पत्तियों में मौजूद जेल को चेहरे पर नमी तथा ताजगी प्रदान करने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है।”

शहनाज कहती हैं कि गाजर को घिसकर इसे चेहरे पर 15-20 मिनट तक लगाएं। गाजर विटामिन ‘ए’ से भरपूर मानी जाती है तथा सर्दियों में त्वचा को पोषाहार प्रदान करने में काफी सक्षम होती है। यह सभी प्रकार की त्वचा के लिए लाभदायक मानी जाती है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .