Obama greets students after his remarks at the Islamic Society of Baltimore mosque in Catonsville, Maryland

 

बाल्टीमोर – अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बाल्टीमोर की एक मस्जिद का दौरा किया और कहा कि इस्लाम पर हमला, सभी धर्मों पर हमला है। यह पहला मौका है जब राष्ट्रपति बनने के बाद ओबामा अमेरिका की किसी मस्जिद में गए हैं।

इससे पहले उन्होंने 2009 में काहिरा की मस्जिद का दौरा किया था। ओबामा का यह दौरा इसलिए भी अहम है क्योंकि इसी साल होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनावों में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने मुस्लिम विरोधी बयान दिए हैं। ट्रम्प ने तो यहां तक कहा है कि वे राष्ट्रपति बने तो मुस्लिमों का अमेरिका में प्रवेश प्रतिबंधित कर देंगे।

[box type=”shadow” ]मस्जिद में ओबामा के संबोधन की अहम बातें

आतंकवाद से लड़ने का सबसे अच्छा तरीका है, अमेरिका दुनिया को दिखा दे कि यहां इस्लाम को दबाया नहीं जाता। अमेरिका इस्लााम के खिलाफ फैलाए गए झूठ को खारिज करता है।

अमेरिकी किसी भी मत के खिलाफ कट्टरता को मूख खड़े नहीं देख सकते।

मैं जानता हूं कि हमारे पूरे देश में मुस्लिम समुदाय के खिलाफ चिंता का वक्त है और सच कहूं यह थोड़ डर का भी समय है। हमें इस बात का सम्मान करना चाहिए कि हमारे पास धार्मिक स्वतंत्रता है।

मुस्लिम समुदाय को धार्मिक कट्टरता को खारिज करना चाहिए। [/box]

ओबामा ने अपने संबोधन में सिखों का भी जिक्र किया और कहा कि अमेरिकियों को किसी भी समुदाय के लोगों पर हुए हमले के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति ने बुर्का पहने महिलाओं और लड़कियों से भी मुलाकात की।