Home > Crime > गणतंत्र की रात घर से अगवा कर 36 घंटे करते रहे गैंगरेप

गणतंत्र की रात घर से अगवा कर 36 घंटे करते रहे गैंगरेप

Married_to_the_collective_Gangrepमुजफ्फरनगर – गणतंत्र दिवस की देर रात घर से अगवा कर ले जाई गई किशोरी को मकान में बंधक बनाकर 36 घंटे तक चार युवकों ने गैंगरेप किया। बुधवार दोपहर किशोरी बंद मकान से बेहोशी की हालत में मिली, जिसे उपचार दिलाने के बाद गुरुवार को मेडिकल के लिए भेज दिया गया। दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

थाना क्षेत्र के गांव की 15 वर्षीय लड़की को 26 जनवरी की देर रात घर के बाहर से चार युवक ने चाकू के बल पर अगवा कर लिया था। तभी से परिजन किशोरी की तलाश करते रहे, लेकिन उसका सुराग नहीं लगा।

बुधवार दोपहर करीब दो बजे एक महिला की निशानदेही पर किशोरी बेहोशी की हालत में गांव में ही एक बंद मकान मिल गई, जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी।

पुलिस ने किशोरी का उपचार कराया, जिसने होश में आने पर चार युवकों के नाम बताते हुए 36 घंटे तक गैंगरेप किए जाने की बात कही। इस पर परिजनों ने चारों आरोपियों मुकेश, प्रदीप, कल्लू और दुष्यंत के खिलाफ गैंगरेप की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

पुलिस ने मुकेश व प्रदीप को गिरफ्तार कर पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया है। इंस्पेक्टर वीके शर्मा का कहना है कि मामला प्रेम-प्रसंग का लग रहा है। दो आरोपियों को पकड़ लिया गया है, अन्य दोनों की तलाश की जा रही है। किशोरी के बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

36 घंटे तक गैंगरेप की हैवानियत झेलने वाली किशोरी के परिजनों का आरोप है कि उन्होंने 26 जनवरी को अगवा किए जाने के तत्काल बाद पुलिस को घटना की सूचना दी थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

27 जनवरी को भी चार आरोपियों पर शक जताते हुए पुलिस से किशोरी को बरामद करने की गुहार लगाई गई, लेकिन पुलिस ने उसके खुद ही कहीं चले जाने की बात कहते हुए इसे अनसुना कर दिया।

आरोप यह भी है कि बुधवार को किशोरी की बरामदगी के बाद भी पुलिस ने मामले को हल्के में ही लेते हुए प्रेम-प्रसंग बताते हुए कार्रवाई में हीलाहवाली की। मामले के तूल पकड़ने पर पुलिस ने गुरुवार को पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा।

फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com