Home > India News > गौशाला के अभाव में भूखी-प्यासी मर रही गाय

गौशाला के अभाव में भूखी-प्यासी मर रही गाय

अल्हागंज: क्षेत्र के गांव चिलौआ, दहेना के पास बंजर मे घूम रही हज़ारों गायों के सामने जल और चारे के अभाव की वजह से तड़प तड़प कर मर रही है। जिसके लिए प्रशासन से लेकर शासन तक अधिकारीगण ध्यान नहीं दे रहे है। क्षेत्र के किसान भी परेशान है। भाजपा सरकार में गायों के लिए जगह जगह गौशाला बनवा रही है। पर इस क्षेत्र में गौशाला बनवाने का नाम न तो कोई नेता ले रहा है। न कोई अधिकारी।

आपको बता दे कि जलालाबाद तहसील क्षेत्र के गांव दहेना,चौरसिया ,धर्मपुर ,रामपुर, केबलरामपुर चिलौआ,तथा सीमावर्ती हरदोई के गांव द्वारनगला , घसा, गिरधरपुर आदि गावों के बीच कई एकड़ बंजर भूमि पडी है। जहां गायों तथा उनके बच्चे व साडो ने अपना खुले आसमान व तपती हुई जमीन के ऊपर अपना बसेरा बना रख्खा है। जो चारे एंव बूँद बूँद पानी के अभाव मे तड़प तड़प कर अपना दम तोड़ रही है। पिछले दो सप्ताह मे लगभग चार पांच गायों की मौत हो चुकी है। जिनके शव अभी भी पड़े हुऐ है।

अगर इस क्षेत्र मे गौशाला का निर्माण करा दिया जाऐ तो इस समस्या का समाधान हो सकता है। साथ ही गायों व उनके छोटे छोटे बच्चे और साडों की प्राण रंक्षा भी की जा सकती है। क्षेत्र मे सभी तालाब सूख गऐ है। अधिक तर तालाब बंद पड़े है। शाहजहांपुर जिले के प्रत्येक क्षेत्र मे हर नेता व अधिकारीगण भ्रमण करते है। समस्याए सुनते है। पर इस क्षेत्र मे कोई समस्या तक सुनने नहीं आता सिर्फ़ चुनाव मे बडी बडी बातें करने सभी आ जाते है। इस क्षेत्र के किसान खेतों मे ही पड़े रहते है। फसल को बचाने के लिए कटीले ब्लेड बाले तार भी लगाते है। जिससे गाय अक्सर घायल होती रहेती है।

रिपोर्ट: सोनी कपूर

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .