ट्रम्प की पत्नी दिल्ली के स्कूल में देख रही हैप्पीनेस, यहाँ छात्र भविष्य को लेकर चिंतित

खंडवा (निशात सिद्दीकी) : कलेक्टर मैडम हमारी टीचर का ट्रांसफर रुकवा दीजिये … 7 मार्च से बोर्ड परीक्षा है … हमारे यहाँ केवल दो टीचर है एक का टीचर का ट्रांसफर हो गया है… एक है तो वो पढाते नहीं …. मारते है और कभी कभी शराब पीकर आते है… ऐसे में हमारे भविष्य का क्या होगा… इन मासूम छात्रों की ये चिंता ऐसे समय सामने आई हैं जब देश में दुनियां के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति और उनकी पत्नी मेलानिया देश के दौरे पर हैं और मेलानिया दिल्ली के स्कूल की हैप्पीनेस क्लास में देखने पहुंचीं और स्कूल जाकर शिक्षा का हाल जाना । लेकिन खंडवा से आती ये खबर हमारी शिक्षा वयवस्था के लिए बड़ा सवाल करती हैं।

खंडवा जिले में जनसुनवाई के दौरान नन्ने बच्चे अपने भविष्य को लेकर गांधी की प्रतिमा के सामने बैठे चिंता में डूबे नजर आए। ये बच्चे अपर कलेकटर के सामने गुहार लगाते रहे की हमारी टीचर का तबबदला रोक लो । दरअसल खंडवा जिले के ग्राम अम्लानी में माध्यमिक शाला में एक दो टीचर है जिसमे से एक महिला टीचर का ट्रांसफर हो गया है .. वहीं इन बच्चों ने अपने आरोप लगाया की दूसरे टीचर बच्चों को पढ़ाते नहीं हैं और तो और शराब पीकर स्कूल आते हैं। ऐसे में उन्हें उनके मुस्तकबिल की फ़िक्र होने लगी हैं। उन्होंने अपर कलेकटर से गुहार लगाई कि उनकी टीचर का तबादला रुकवा दिया जाए। ताकि वे उन्हें परीक्षा के लिए ठीक ढंग से पढ़ाई करवा सके। ये सब तब हो रहा हैं जब अमेरिकी प्रेसिडेंट की पत्नी दिल्ली के स्कूलों में हैपीनेस देख रही हैं।

जब इन बच्चो ने जनसुनवाई में अपर कलेकटर के सामने अपनी समस्या रखी प्रभारी कलेक्टर नंदा भलावे कुशरे ने तुरंत जिला शिक्षा अधिकारी को इस समस्या का समाधान करने के लिए निर्देशित किया है। गौरतलब है की 7 मार्च से इन बच्चो की वार्षिक परीक्षा शुरू हो रही है, बच्चे अपने भविष्य को लेकर चिंता में … जबकि शिक्षा में हुए सुधर को लेकर अमेरिकी प्रेसिडेंट की पत्नी दिल्ली में स्कूलों हैप्पीनेस क्लास देख रही हैं।