पश्चिम बंगाल में जमात उल मुजाहिद्दी के दो आतंकी गिरफ्तार

0
20

कोलकाता एसटीएफ और मुर्शिदाबाद पुलिस ने संयुक्त अभियान में आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिद्दी (जेएमबी) के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। उनसे विस्फोट भी बरामद किया गया है। बता दें जमात उल मुजाहिद्दी बांग्लादेश स्थित आतंकी संगठन है।

बुधवार को हुई इस गिरफ्तारी में विस्फोटक भी बरामद किए गए हैं। इन संदिग्धों को बोधगया बम मामले में कथित तौर पर शामिल होने के चलते गिरफ्तार किया गया है।

इनमें से एक की उम्र 20 साल के करीब है और उसकी पहचान नुर आलम के तौर पर हुई है। उसे राज्य के मुर्शिदाबाद के धुलियां से गिरफ्तार किया गया है।

आलम जिले के कमात गांव का रहने वाला है। वह इस आतंकी संगठन में कुछ समय के लिए शामिल रहा है।

19 जनवरी को बिहार के बोधगया में तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा के दौरे के दौरान दो उच्च तीव्रता वाले बम मिले थे।

उसी दिन विस्फोटक की आवाज भी सुनाई दी थी, हालांकि पुलिस की ओर से ये नहीं बताया गया कि वह बम था या कुछ और।

अधिकारी ने बताया कि प्राथमिक जांच में सामने आया है कि आलम ने आतंकी संगठन के चार लोगों के साथ हैदराबाद में जेएमबी के वरिष्ठ लीडर से मुलाकात की थी।

जनवरी में भी कोलकाता पुलिस की विशेष टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बोधगया बम मामले से जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार किया था।