31.4 C
Indore
Thursday, May 13, 2021

सेना की फायरिंग में 38 लोगों की मौत

यंगून : म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन बढ़ता रहा है। यहां रविवार को प्रदर्शन कर रहे लोगों पर सेना ने अलग-अलग स्थानों पर गोलियां बरसाईं, जिसमें 38 लोगों की मौत होने की खबर है। एक एडवोकेसी संगठन के हवाले से न्यूज एजेंसी रायटर्स ने यह जानकारी दी है।

खबर में बताया गया है कि यंगून इलाके के हैंगथाया में प्रदर्शनकारियों ने एक चीनी फैक्टरी को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद सेना ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें 22 लोगों की मौत हो गई। वहीं, अन्य जगहों पर प्रदर्शन कर रहे 16 लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। इस दौरान एक पुलिसकर्मी के भी मारे जाने की भी है।

अब तक 125 से ज्यादा लोगों की जान गई
म्यांमार के एक संगठन के मुताबिक अभी तक के प्रदर्शन में मारे गए लोगों का आंकड़ा 125 के पार पहुंच चुका है। यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है, क्योंकि अभी भी कई इलाके ऐसे हैं जहां शव पड़े हुए हैं। शनिवार तक 2,150 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है।

सेना का दावा
सेना की ओर से चलाए जाने वाले टीवी चैनल ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने इलाके की 4 गारमेंट और फर्टिलाइजर फैक्टरी में आग लगा दी थी। इसके बाद मौके पर फायर ब्रिगेड को रवाना किया गया। प्रदर्शन कर रहे करीब 2,000 लोग फायर ब्रिगेड को रोकने का प्रयास कर रहे थे। हालात बेकाबू होने के बाद सेना को फायरिंग करनी पड़ी।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव की विशेष दूत ने निंदा की
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव की ‌विशे‌ष दूत क्रिस्टीन श्रानेर बर्गनर ने हिंसा की निंदा की। उन्होंने कहा कि म्यांमार में हत्या, प्रदर्शनकारियों के साथ बर्बरता और यातनाओं की खबरें लगातार मिल रही हैं। इसके खिलाफ सभी को एकजुट होने की जरूरत है। हम उन क्षेत्रीय नेताओं और सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ संपर्क में हैं, जो म्यांमार के हालात को सुधारने के प्रयास में लगे हुए हैं।

एक फरवरी को किया तख्तापलट
भारत के पड़ोसी देश म्यांमार में सेना ने एक फरवरी की आधी रात तख्तापलट कर दिया था। वहां की लोकप्रिय नेता और स्टेट काउंसलर आंग सान सू की और राष्ट्रपति विन मिंट समेत कई नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद से ही पूरे देश में इसके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन चल रहे हैं।

तख्तापलट क्यों?

  • दरअसल, पिछले साल नवंबर में म्यांमार में आम चुनाव हुए थे। इनमें आंग सान सू की पार्टी ने दोनों सदनों में 396 सीटें जीती थीं। उनकी पार्टी ने लोअर हाउस की 330 में से 258 और अपर हाउस की 168 में से 138 सीटें जीतीं।
  • म्यांमार की मुख्य विपक्षी पार्टी यूनियन सॉलिडैरिटी एंड डेवलपमेंट पार्टी ने दोनों सदनों में मात्र 33 सीटें ही जीतीं। इस पार्टी को सेना का समर्थन हासिल था। इस पार्टी के नेता थान हिते हैं, जो सेना में ब्रिगेडियर जनरल रह चुके हैं।
  • नतीजे आने के बाद वहां की सेना ने इस पर सवाल खड़े कर दिए। सेना ने चुनाव में सू की की पार्टी पर धांधली करने का आरोप लगाया। इसे लेकर सेना ने सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रपति और चुनाव आयोग की शिकायत भी की।
  • चुनाव नतीजों के बाद से ही लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार और वहां की सेना के बीच मतभेद शुरू हो गया। अब म्यांमार की सत्ता पूरी तरह से सेना के हाथ में आ गई है। तख्तापलट के बाद वहां सेना ने 1 साल के लिए इमरजेंसी का भी ऐलान कर दिया है।

Related Articles

दिल्ली सरकार ने बताया पलायन रोकने का प्लान, कहा- मजदूरों को देंगे 5-5 हजार रुपये

नई दिल्लीः दिल्ली सरकार लॉकडाउन के दौरान प्रवासी, दैनिक व निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों की भलाई के लिए प्रतिबद्घ है। सरकार ने लॉकडाडन...

ममता का प्रधानमंत्री मोदी से पूछा सवाल- महामारी रोकने के लिए आपने छह महीने में क्या किया?

कोलकाता : देश में कोरोना की दूसरी लहर बढ़ने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है।...

कश्मीर के शोपियां में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़

जम्मू : घाटी के शोपियां जिले में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ चल रही है। सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को अंजाम...

विशेषज्ञ से जानें: बच्चों को कोरोना संक्रमण से कैसे बचा सकते हैं?  

देशभर में चल रहे टीकाकरण अभियान के बावजूद कोरोना का संक्रमण बड़ी ही तेजी से फैल रहा है। प्रतिदिन नए कोरोना मरीजों और संक्रमण...

इंसानियत जिंदा है : कोरोना वॉरियर्स और अन्नपूर्णा

गुजरात : " कोरोना के तांडव के बीच फूल रही है सांसे , एक तरफ सरकार के अथाग प्रयास के बावजूद भी अस्पताल में...

Coronavirus: संक्रमण दर ने पकड़ी रफ्तार, केजरीवाल ने अमित शाह से मांगी मदद

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में कोरोना हर रोज रिकॉर्ड तोड़ रहा है। हालात लगातार बदतर होते जा रहे हैं। इसी बीच रविवार को मुख्यमंत्री...

Corona: राहुल गांधी ने रद्द कीं बंगाल की सभी जनसभाएं, दूसरे नेताओं से की यह अपील

नई दिल्लीः कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाांधी ने चुनावी कार्यक्रमों में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है। राहुल गांधी ने कहा कि...

दिल्ली में शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक वीकेंड कर्फ्यू लागू

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण और बिगड़ते हालात को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल ने गुरुवार को समीक्षा...

सीबीएसई बोर्ड 2021 : 12वीं की परीक्षा स्थगित और 10वीं की परीक्षा रद्द हुई, जानें डिटेल्स

नई दिल्लीः शिक्षा मंत्री के साथ बैठक में प्रधानमंत्री ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया है। निर्णय के अनुसार दसवीं...

Stay Connected

5,567FansLike
13,774,980FollowersFollow
119,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

दिल्ली सरकार ने बताया पलायन रोकने का प्लान, कहा- मजदूरों को देंगे 5-5 हजार रुपये

नई दिल्लीः दिल्ली सरकार लॉकडाउन के दौरान प्रवासी, दैनिक व निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों की भलाई के लिए प्रतिबद्घ है। सरकार ने लॉकडाडन...

ममता का प्रधानमंत्री मोदी से पूछा सवाल- महामारी रोकने के लिए आपने छह महीने में क्या किया?

कोलकाता : देश में कोरोना की दूसरी लहर बढ़ने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है।...

कश्मीर के शोपियां में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़

जम्मू : घाटी के शोपियां जिले में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ चल रही है। सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को अंजाम...

विशेषज्ञ से जानें: बच्चों को कोरोना संक्रमण से कैसे बचा सकते हैं?  

देशभर में चल रहे टीकाकरण अभियान के बावजूद कोरोना का संक्रमण बड़ी ही तेजी से फैल रहा है। प्रतिदिन नए कोरोना मरीजों और संक्रमण...

इंसानियत जिंदा है : कोरोना वॉरियर्स और अन्नपूर्णा

गुजरात : " कोरोना के तांडव के बीच फूल रही है सांसे , एक तरफ सरकार के अथाग प्रयास के बावजूद भी अस्पताल में...