25.1 C
Indore
Thursday, December 9, 2021

सेना की फायरिंग में 38 लोगों की मौत

यंगून : म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन बढ़ता रहा है। यहां रविवार को प्रदर्शन कर रहे लोगों पर सेना ने अलग-अलग स्थानों पर गोलियां बरसाईं, जिसमें 38 लोगों की मौत होने की खबर है। एक एडवोकेसी संगठन के हवाले से न्यूज एजेंसी रायटर्स ने यह जानकारी दी है।

खबर में बताया गया है कि यंगून इलाके के हैंगथाया में प्रदर्शनकारियों ने एक चीनी फैक्टरी को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद सेना ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें 22 लोगों की मौत हो गई। वहीं, अन्य जगहों पर प्रदर्शन कर रहे 16 लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। इस दौरान एक पुलिसकर्मी के भी मारे जाने की भी है।

अब तक 125 से ज्यादा लोगों की जान गई
म्यांमार के एक संगठन के मुताबिक अभी तक के प्रदर्शन में मारे गए लोगों का आंकड़ा 125 के पार पहुंच चुका है। यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है, क्योंकि अभी भी कई इलाके ऐसे हैं जहां शव पड़े हुए हैं। शनिवार तक 2,150 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है।

सेना का दावा
सेना की ओर से चलाए जाने वाले टीवी चैनल ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने इलाके की 4 गारमेंट और फर्टिलाइजर फैक्टरी में आग लगा दी थी। इसके बाद मौके पर फायर ब्रिगेड को रवाना किया गया। प्रदर्शन कर रहे करीब 2,000 लोग फायर ब्रिगेड को रोकने का प्रयास कर रहे थे। हालात बेकाबू होने के बाद सेना को फायरिंग करनी पड़ी।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव की विशेष दूत ने निंदा की
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव की ‌विशे‌ष दूत क्रिस्टीन श्रानेर बर्गनर ने हिंसा की निंदा की। उन्होंने कहा कि म्यांमार में हत्या, प्रदर्शनकारियों के साथ बर्बरता और यातनाओं की खबरें लगातार मिल रही हैं। इसके खिलाफ सभी को एकजुट होने की जरूरत है। हम उन क्षेत्रीय नेताओं और सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ संपर्क में हैं, जो म्यांमार के हालात को सुधारने के प्रयास में लगे हुए हैं।

एक फरवरी को किया तख्तापलट
भारत के पड़ोसी देश म्यांमार में सेना ने एक फरवरी की आधी रात तख्तापलट कर दिया था। वहां की लोकप्रिय नेता और स्टेट काउंसलर आंग सान सू की और राष्ट्रपति विन मिंट समेत कई नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद से ही पूरे देश में इसके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन चल रहे हैं।

तख्तापलट क्यों?

  • दरअसल, पिछले साल नवंबर में म्यांमार में आम चुनाव हुए थे। इनमें आंग सान सू की पार्टी ने दोनों सदनों में 396 सीटें जीती थीं। उनकी पार्टी ने लोअर हाउस की 330 में से 258 और अपर हाउस की 168 में से 138 सीटें जीतीं।
  • म्यांमार की मुख्य विपक्षी पार्टी यूनियन सॉलिडैरिटी एंड डेवलपमेंट पार्टी ने दोनों सदनों में मात्र 33 सीटें ही जीतीं। इस पार्टी को सेना का समर्थन हासिल था। इस पार्टी के नेता थान हिते हैं, जो सेना में ब्रिगेडियर जनरल रह चुके हैं।
  • नतीजे आने के बाद वहां की सेना ने इस पर सवाल खड़े कर दिए। सेना ने चुनाव में सू की की पार्टी पर धांधली करने का आरोप लगाया। इसे लेकर सेना ने सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रपति और चुनाव आयोग की शिकायत भी की।
  • चुनाव नतीजों के बाद से ही लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार और वहां की सेना के बीच मतभेद शुरू हो गया। अब म्यांमार की सत्ता पूरी तरह से सेना के हाथ में आ गई है। तख्तापलट के बाद वहां सेना ने 1 साल के लिए इमरजेंसी का भी ऐलान कर दिया है।

Related Articles

 नहीं रहे सीडीएस जनरल बिपिन रावत, कुन्नूर में हेलीकॉप्टर हुआ था हादसे का शिकार

नई दिल्लीः भारतीय वायुसेना ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत के निधन की पुष्टि कर दी है। हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13...

तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, पत्नी के साथ सीडीएस जनरल बिपिन रावत भी थे सवार

नई दिल्ली: फिर से सेना का एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया है। हादसा तमिलनाडु के कोयंबटूर और सुलूर के बीच कुन्नूर में हुआ है।...

अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी से विस्थापित नहीं हुआ कोई भी कश्मीरी पंडित व हिंदू, गृह मंत्रालय ने दी जानकारी

नई दिल्लीः संसद के शीतकालीन सत्र में गृह मंत्रालय ने राज्यसभा को बताया कि धारा 370 के निरस्त होने के बाद घाटी से कोई...

 अखिलेश यादव बोले- लाल टोपी यूपी में बदलाव का प्रतीक, पहले यह ‘जुमलों’ की सरकार थी अब हुई ‘बेचू’

लखनऊ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा समाजवादी पार्टी पर किए गए 'लाल टोपी' वाले तंज पर अब राजनीति गरमा गई है। एक ओर जहां...

मोदी सरकार का अहंकार ही सारी समस्याओं की जड़ है – राहुल गांधी

नागालैंड में नागरिकों की हत्याओं पर, सोनिया गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कहा, 'केंद्र का खेद व्यक्त करना पर्याप्त...

JNU फिर विवादों में, RSS और BJP को लेकर लगे आपत्तिजनक नारे

इस प्रोटेस्ट मार्च के अलावा JNU कैंपस में लेफ्ट दलों से जुड़े नेताओं ने भाषण भी दिए और देश के दंगों के लिए बीजेपी...

महिलाओं की ये आदतें पुरुषों को करती हैं आकर्षित

ऐसी कई छोटी-छोटी आदतों वाली महिलाओं को पुरुष ज्यादा सेक्सी मानते हैं और उनकी तरफ आकर्षित होते हैं। यही कारण है कि जब बात...

पंजाब : पंजाब लोक कांग्रेस का दफ्तर खुला, भाजपा के साथ चुनाव लड़ने का एलान

कैप्टन ने ट्वीट किया कि पंजाब की समृद्धि और सुरक्षा के लिए ईश्वर से प्रार्थना की, क्योंकि मैं अपने राज्य और इसके लोगों के...

मुसलमान का नेता मुस्लिम नहीं, हिंदू होता है – भाजपा नेता

हरदोई में शहर के श्रवण देवी मंदिर परिसर में आयोजित दलित सम्मेलन में भाजपा नेता पूर्व सांसद नरेश अग्रवाल ने मंच से संबोधित करते...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
124,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

 नहीं रहे सीडीएस जनरल बिपिन रावत, कुन्नूर में हेलीकॉप्टर हुआ था हादसे का शिकार

नई दिल्लीः भारतीय वायुसेना ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत के निधन की पुष्टि कर दी है। हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13...

तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, पत्नी के साथ सीडीएस जनरल बिपिन रावत भी थे सवार

नई दिल्ली: फिर से सेना का एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया है। हादसा तमिलनाडु के कोयंबटूर और सुलूर के बीच कुन्नूर में हुआ है।...

अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी से विस्थापित नहीं हुआ कोई भी कश्मीरी पंडित व हिंदू, गृह मंत्रालय ने दी जानकारी

नई दिल्लीः संसद के शीतकालीन सत्र में गृह मंत्रालय ने राज्यसभा को बताया कि धारा 370 के निरस्त होने के बाद घाटी से कोई...

 अखिलेश यादव बोले- लाल टोपी यूपी में बदलाव का प्रतीक, पहले यह ‘जुमलों’ की सरकार थी अब हुई ‘बेचू’

लखनऊ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा समाजवादी पार्टी पर किए गए 'लाल टोपी' वाले तंज पर अब राजनीति गरमा गई है। एक ओर जहां...

मोदी सरकार का अहंकार ही सारी समस्याओं की जड़ है – राहुल गांधी

नागालैंड में नागरिकों की हत्याओं पर, सोनिया गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कहा, 'केंद्र का खेद व्यक्त करना पर्याप्त...